Breaking News

प्रधान ने कहा, उज्ज्वला योजना की 60 फीसद गरीब महिलाएं ही लेती हैं 4 सिलिंडर

Image result for प्रधाननई दिल्ली . पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र मुख्य ने बताया 3.2 करोड़ गरीब स्त्रियों में से करीब 60 फीसदीरसोई गैस के चार सिलिंडर लेती हैं. पीएम उज्जवला योजना के भीतर (पीएमयूवाई) 1 मई, 2016 के बाद से 3.2 करोड़ से अधिक गरीब स्त्रियों को मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन वितरित किए जा चुके हैं.हालांकि यह आंकड़ा तीन वर्ष में ऐसे पांच करोड़ कनेक्शन वितरित करने के लक्ष्य के आधे से अधिक है.

क्या बोले धर्मेंद्र प्रधान: धर्मेंद्र मुख्य ने कहा, “हमने इन परिवारों के पहले वर्ष के उपभोग के तौर-तरीकों का अध्ययन किया  पाया कि करीब 60 फीसद लाभार्थी औसतन चार सिलिंडर ले रही हैं. यह बहुत ज्यादा उत्साहजनक रुख है  हमें भविष्य में इसके बढ़ने की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें:   अदालत ने महिला के साथ छेड़छाड़ के आरोपी को इसलिए बरी कर दिया

प्रधान ने रसोई गैस कनेक्शन पाने वाली गरीब स्त्रियों में से अधिकतर की ओर से सिलिंडर नहीं खरीदने की रिपोर्ट को खारिज करते हुए बोला कि आंकड़ों से मालूम होता है कि लाभार्थी पहले सिलिंडर को समाप्त करने के बाद अन्य सिलिंडर खरीद रही हैं. हालांकि, जनजातीय क्षेत्रों में यह नहीं हो रहा है, क्योंकि उन्होंने वापस लकड़ी जलाना प्रारम्भ कर दिया है.

loading...
Loading...

पेट्रोलियम मंत्री ने विमेन इन एलपीजी के हिंदुस्तान सत्र का उद्घाटन करते हुए बोला कि पीएमउज्ज्वला योजना की आरंभ लकड़ी, कोयला, उपला आदि जलाने वाले करीब 10 करोड़ परिवारों को स्वच्छ रसोई ईंधन मुहैया कराने के लिए हुई थी. उन्होंने बोला कि इस तरह के ईंधनों के प्रयोग से प्रदूषण बढ़ता है  स्त्रियों एवं बच्चों को श्वांस संबंधी बीमारियों का शिकार होना पड़ता है. विश्व सेहतसंगठन की एक रिपोर्ट के अनुसार, परंपरागत तौर तरीके वाले ईंधन का धुआं स्त्रियों के लिए एक घंटे में 400 सिगरेट पीने के बराबर नुकसान पहुंचाने वाला है.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   भाषा और साहित्य के लिए 12 हस्तियों को मिला हिंदी सेवी सम्मान
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *