Thursday , April 26 2018
Loading...

इतने हजार में किया लड़की का सौदा, पुलिस ने पकड़ा तो…

Image result for इतने हजार में किया लड़की का सौदामानव तस्करी के मामले में पुलिस ने आरोपी महिला के पति को भी शनिवार की रात अरैस्ट कर लिया है. इसके बाद उसने चौंकाने वाला खुलासा किया.

रविवार को तीनों आरोपियों को कारागार भेज दिया गया. पूछताछ में पुलिस को मानव तस्करी के बारे में कई चौंकाने वाली बातें पता चली हैं. पुलिस का दावा है कि पकड़े गए आरोपी पेशेवर मानव तस्कर हैं व इससे पहले भी वे दो-तीन किशोरियों को बहला-फुसला कर बेच चुके हैं.

यहां बरामद की गई किशोरी का भी दिल्ली में पचास हजार रुपये में सौदा तय था. पुलिस चौथे आरोपी महिला के भाई की गिरफ्तारी के कोशिश के साथ मानव तस्करी के नेटवर्क को खंगालने में जुट गई है.

13 दिसंबर को जौलजीबी के बरम गांव निवासी एक किशोरी टैक्सी चालक मदन कुमार की आल्टो कार से अकेले टनकपुर पहुंची थी. टैक्सी चालक की सूचना पर पुलिस ने किशोरी एवं किशोरी को लेने आए आदमी को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो मामला मानव तस्करी का निकला.
इसके बाद पुलिस ने रीड्स संस्था के सचिव भुवन गड़कोटी की तहरीर पर आरोपियों के विरूद्ध मानव तस्करी का मुकदमा दर्ज कर चितौरा थाना आलापुर जिला बदायूं निवासी महिला ज्योति शर्मा पत्नी शिवम शर्मा एवं उसके ससुर दिनेश कुमार शर्मा को अरैस्ट किया.

यह भी पढ़ें:   दलित महिला को चोरी के आरोप में पीटा और बाद मे निर्वस्त्र किया गया

शनिवार की देर रात मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने ज्योति के पति शिवम शर्मा को भी पकड़ लिया, जबकि ज्योति का बरम जौलजीबी पिथौरागढ़ निवासी भाई सुरेश आर्या अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है.

Loading...
loading...

कोतवाल अरुण कुमार वर्मा ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ में मानव तस्करी के बारे में चौंकाने वाली बातें पता चली हैं. उन्होंने बताया कि आरोपी महिला इससे पहले भी पिथौरागढ़ जिले की दो किशोरियों को बहला-फुसला कर बेच चुकी है.

इनमें से एक किशोरी दिल्ली तो दूसरी राजस्थान में बेची गई है. आरोपी महिला ने बताया कि किशोरियों को तीस से पचास हजार रुपये में बेचा जाता है. यहां बरामद की गई किशोरी का भी दिल्ली में पचास हजार रुपये में सौदा तय था.

यह भी पढ़ें:   कैबिनेट मंत्री के ओएसडी का जलवा, ट्रेन में लगा ज्यादा कोच

किशोरी लापता होने पर गांव वालों का उस पर संदेह न जाए इसके लिए आरोपी महिला ने किशोरी की स्कूल ड्रेस गांव के ही एक रिश्तेदार के यहां रखवा कर गांव में किशोरी के किसी के साथ भागने की अफ़वाह तक फैला दी थी. कोतवाल ने बताया कि आरोपियों द्वारा उगले गए राज पर मानव तस्करी के नेटवर्क को खंगाला जा रहा है.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *