Breaking News

जानें राहत की खबर : क्या मिलेगी मध्यम वर्ग को बजट में खुशखबरी

Image result for क्या मिलेगी मध्यम वर्ग को बजट में खुशखबरीःनई दिल्लीः वर्ष 2018-19 का आम बजट पेश होने में 23 दिन बचे हैं  जैसे-जैसे बजट का दिन पास आता जा रहा है वैसे-वैसे इस बात को लेकर उत्सुकता बढ़ती जा रही है कि इस बार वित्त मंत्री अरुण जेटली के पिटारे में आम जनता के लिए क्या होगा वैसे आम जनता यानी मध्यम वर्ग या मिडिल क्लास के लिए एक अच्छी समाचार आई है कि उनके लिए गवर्नमेंट इस बार कुछ सौगातों का बंदोवस्त कर सकती है जानिए किस तरह की राहत आपको मिल सकती है हाउसिंग सेक्टर/होम लोन के लिए ज्यादा बजट
  • सूत्रों की मानें तो इस बार गवर्नमेंट बजट में राष्ट्र के हाउसिंग सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए गवर्नमेंट घर बनाने की योजनाओं पर ज्यादा खर्च का प्रावधान कर सकती है
  • ये भी कयास लगाए जा रहे हैं कि वित्त मंत्री बजट में होम लोन की ब्याज दरों पर मिलने वाली कर छूट को भी बढ़ा सकते हैं फिल्हाल सेक्शन 80सी के तहत आपको होम लोन के 1.5 लाख रुपये तक के प्रधानाचार्य अमाउंट पर कर छूट मिलती है
  • सीएलएसएस यानि क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम के बजट में भी इजाफा हो सकता है  इसे बढ़ाकर ग्रामीण एरिया के लिए ज्यादा रकम जारी की जा सकती है जो कि पिछली बार 44 हजार करोड़ रुपये थी इस बजट में ग्रामीण एरिया के खर्च में 40-50 प्रतिशत ज्यादा पैसा जारी किया जा सकता है
  • अफोर्डेबल हाउसिंग को बढ़ावा देने  2021 तक सबको घर दिलाने की गवर्नमेंट की उम्मीदों को पूरा करने के लिए गवर्नमेंट हाउसिंग सेक्टर के लिए थोड़ी ज्यादा राशि जारी कर सकती है

फिक्स्ड डिपाजिट-हेल्थ इंश्योरेंस पर लाभ बढ़ेगा माना जा रहा है कि गवर्नमेंट फिक्स्ड डिपॉजिट पर इस बार ब्याज दरें बढ़ाने पर विचार कर रही है हालांकि पिछले कुछ समय से छोटी बचत योजनाओं  एफडी पर इंटरेस्ट रेट लगातार घटे हैं माना जा रहा है कि इससे पैदा हुए असंतोष को दूर करने के लिए वित्त मंत्री एक बार फिर ऐसी योजनाओं का इंटरेस्ट बढ़ाने का एलान कर सकते हैं वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कुछ समय पहले ये इशारा भी दिए थे कि गवर्नमेंट लोगों की जेब में ज्यादा पैसा छोड़ना चाहती है जिससे राष्ट्र में बचत के जरिए निवेश बढ़ावा दिया जा सके हेल्थ इंश्योरेंस परम्यूचुअल फंड  शेयरों पर (Long term capital gains or LTCG) आर्थिक जगत में इस बात की सरगर्मियां चल रहीं है कि गवर्नमेंट म्यूचुअल फंड  इक्व‍िटी यानी शेयरों पर दीर्घकालिक पूंजीगत फायदा या लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन कर को बढ़ाने की तैयारी कर रही है हालांकि हर बजट से पहले इस तरह की खबरें आती हैं लेकिन इस बार ऐसा होने की आसार ज्यादा लग रही है हालांकि बोला जा रहा है कि 5 लाख रुपये तक के ट्रांजेक्शन पर शायद (Long term capital gains or LTCG) के मोर्चे पर कुछ छूट मिल सकती है कुल मिलाकर बोला जा सकता है कि इस बार भले ही गवर्नमेंटलोकलुभावन यानी पॉपुलिस्ट बजट पेश करने के मूड में नहीं है लेकिन 2019 में आने वाले चुनावों को देखते हुए कुछ मनभावन एलान कर सकती है आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि इस बार का बजट मोदी गवर्नमेंट के लिए इस कार्यकाल का आखिरी पूर्णकालिक बजट है  वर्ष 2019 में आंशिक बजट पेश किया जाएगा वहीं 1 जुलाई 2017 को GST पेश होने के बाद भी व्यापारियों, कारोबारियों के लिहाज से ये बड़ा अहम बजट होगा

यह भी पढ़ें:   जानिये भारत को गरीब देश कहना, स्नैपचैट को क्यों पड़ गया महंगा ?
Loading...
loading...
Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *