Breaking News

पूरे राष्ट्र को जगाने के लिए 4 जजों ने उठाया यह कदम : प्रशांत भूषण

Image result for प्रशांत भूषणनई दिल्लीः सुप्रीम न्यायालय के चार वरिष्ठ जजों द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस किए जाने सुप्रीम न्यायालय की कार्यशैली पर सवाल उठाए जाने की समाचार ने लोकतंत्र के तीसरे स्तंभ हिला कर रख दिया है सुप्रीम न्यायालय के वरिष्ठ जज जस्टिस चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर  जस्टिस कुरियन जोसेफ ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मुख्य न्यायधीश पर बड़ा आरोप लगाया चारों जजों ने बोला कि राष्ट्र में लोकतंत्र खतरे में है सुप्रीम न्यायालयसही तरीके से कार्य नहीं कर रहा है हमने इस संबंध में मुख्य न्यायधीश (सीजेआई) से भी बात करने की प्रयास की लेकिन हम नाकामयाब रहे है चारों जजों ने बोला कि बीस वर्ष बाद कोई हमें यह ना कहे कि हमने आत्मा बेच दी थी इसलिए हम सारा कुछ बताने के लिए राष्ट्र के सामने आए है

इस मामले पर वरिष्ठ एडवोकेट प्रशांत भूषण ने मीडिया चैनल से वार्ता में कहा, ‘मैंने पिछले 35 वर्ष से सुप्रीम न्यायालय की कार्रवाई को देखा है, ऐसी स्थिति कभी नहीं रही कभी ऐसा नहीं हुआ कि कोई जज यह तय करे कि कौन सा जज कौन सा केस करेगा आज सुप्रीम न्यायालय के मुख्य न्यायधीश यह तय कर रहे हैं कि कौन सा जज, कौन सा केस करे ‘

यह भी पढ़ें:   170 विस्थापित कश्मीरी शिक्षकों को नियमित करेगी दिल्ली सरकार

प्रशांत भूषण ने बोला ‘यह कार्य गवर्नमेंट के इशारे पर किया जा रहा है उन्होंने बोला कि न्यायालय की स्वतंत्रता समाप्त हो रही है भूषण ने बताया, ‘ सीजेआई अहम केसों को खास जजों के यहां लगा कर उन्हें डिसमिस करवा देते हैं जब इस तरह के कामों पर चार सीनियर जजों ने ऐतराज जताया तो उनकी अनदेखी की गई इसलिए इन चार सीनियर जजों को यह कदम उठाना पड़ा जिससे की पूरा राष्ट्र जागे ‘

न्यायपालिका में भी विचारों की लड़ाई? 
प्रशांत भूषण ने इसमें राजनातिक हस्तक्षेप पर कहा,  ‘राजनीति की इसमें कोई बात नहीं है, सीजेआई के बाद तो चार प्रमुख जज हैं उन्होंने बोला है कि सीजेआई अपनी क्षमता का दुरुपयोग कर रहे है यह हमारे लोकतंत्र के लिए घातक अगर सुप्रीम न्यायालय की स्वतंत्रता समाप्त हो जाएगी तो यह नुकसानदेह है जजों ने विचार किया कि यह बात मीडिया के जरिए राष्ट्र की जनता के सामने आनी चाहिए ‘

यह भी पढ़ें:   बड़ी खबर: पीएम मोदी ने सेना को दिया धाकड़ सुरक्षा कवच, हमला तो दूर अब छू भी नहीं पाएंगे आतंकी
Loading...
loading...

आगे की लड़ाई 
प्रशांत भूषण ने कहा ‘ सीजेआई को त्याग पत्र देना चाहिए क्योंकि ऐसी स्थिति कोई भी सेल्फ रिस्पेक्टिंग जज त्याग पत्र दे देगा अगर नहीं देंगे तो यह आगे बढ़ेगा ‘

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *