Breaking News

उद्भव ठाकरे ने बोला है कि चीफ जस्टिस पर उंगली उठाने वाले चारों जजों पर…

Image result for उद्भव ठाकरेमुंबई : शुक्रवार को सुप्रीम न्यायालय के चार जजों द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सुप्रीम न्यायालय की कार्यप्रणाली पर उठाए सवालों को लेकर प्रारम्भ हुई पॉलिटिक्स समाप्त होने का नाम नहीं ले रही है अब इस मामले में शिवसेना प्रमुख उद्भव ठाकरे ने बोला है कि चीफ जस्टिस पर उंगली उठाने वाले चारों जजों पर कार्रवाई की जा सकती है उन्होंने बोला कि शुक्रवार को इंडियनन्यायपालिका के इतिहास में जो कुछ भी हुआ वह वाकई परेशान करने वाला था उद्भव ठाकरे ने बोला कि लेकिन कोई भी कार्रवाई करने से पहले हमें इस बात पर यह जरूर विचार कर लेने चाहिए कि सुप्रीम न्यायालय के जजों ने आखिर यह कदम क्यों उठाया उन्होंने बोला कि लोकतंत्र के सभी चारों स्तंभ स्वतंत्र रूप से खड़े हैं अगर ये स्तंभ एकदूसरे पर गिरेंगे, तो हिंदुस्तान का लोकतंत्र टूट जाएगा, तबाह हो जाएगा

कुरियन जोसेफ ने कहा, ‘यह मुद्दा सुलझ जाएगा’
मुकदमे के ‘चुनिंदा’ तरीके से आवंटन  कुछ न्यायिक निर्णय के खिलाफ राष्ट्रके मुख्य न्यायाधीश के विरूद्ध एक तरह से बगावत का कदम उठाने वाले उच्चतम कोर्ट के चार वरिष्ठतम न्यायाधीशों में एक न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ ने शनिवार को भरोसा जताया कि उन्होंने जो मुद्दे उठाए हैं, उनका निवारणहोगा उनके  तीन अन्य न्यायाधीशों के प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के एक दिन बाद जोसेफ ने बोला कि उन्होंने न्याय  न्यायपालिका के हित में कार्य किया

स्थानीय न्यूज चैनलों ने शुक्रवार के घटनाक्रम पर उनकी रिएक्शन जानने के लिए यहां के निकट कलाडी में उनके पैतृक घर का रुख किया तो न्यायमूर्ति जोसेफ ने कहा, ‘न्याय  न्यायपालिका के पक्ष में खड़े हुए यही वस्तु कल (शुक्रवार को) वहां (नई दिल्ली में) हमने कहा’ उन्होंने कहा, ‘एक मुद्दे की ओर ध्यान गया है ध्यान में आने पर निश्चित तौर पर यह मुद्दा सुलझ जाएगा’न्यायमूर्ति जोसेफ ने बोला कि ‘न्यायाधीशों ने न्यायपालिका में लोगों का भरोसा जीतने के लिए यह किया’

 

यह भी पढ़ें:   बड़ी खबर: आतंकवाद पर भारत ने पाक को दिखाया आईना, नरम रहे शरीफ

जजों ने लगाए CJI पर आरोप
बता दें कि शुक्रवार को सुप्रीम न्यायालय के न्‍यायाधीश जे चेलमेश्वर, रंजन गोगोई, मदन लोकुर  कुरियन जोसफ ने एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में मीडिया से वार्ताकी थी उन्‍होंने कहा, ‘सुप्रीम न्यायालय का प्रशासन अच्छा तरह से कार्य नहीं कर रहा है हमने चीफ जस्टिस से इस बारे में मुलाकात भी की है उन्‍होंने बोला कि चीफ जस्टिस से कई गड़बडि़यों की शिकायत की थी, जिन्‍हें अच्छाकिए जाने की आवश्यकता है आज प्रातः काल भी हम चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा से मिले थे’ जजों ने आरोप लगाया कि सुप्रीम न्यायालय में मामलों का बंटवारा सहीं ढंग से नहीं होता है सुप्रीम न्यायालय के जजों ने पहली बार मीडिया के सामने आते हुए यह बातें कहीं न्‍यायाधीशों ने मीडिया से कहा, हम आज इसलिए आपके सामने आए हैं, ताकि कोई ये न कहे कि हमने अपनी आत्‍माएं बेच दीं

यह भी पढ़ें:   दुश्मन आंख उठाने की भी नहीं करेगा हिमाकत, ‘आईएनएस खंदेरी’ देगी करारा जवाब
Loading...
loading...

पढ़ें :

अटॉर्नी जनरल ने दिए सुलह के संकेत
सुप्रीम न्यायालय के चार वरिष्ठ जजों द्वारा हिंदुस्तान के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा पर सवाल उठाए जाने को लेकर अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने बोलाकि यह मुद्दा शनिवार तक सुलझा लिया जाएगा अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने बोला कि सुप्रीम न्यायालय के जज अपने मतभेद 13 जनवरी तक सुलझा सकते हैं इसके साथ ही उन्होंने बोला कि सुप्रीम न्यायालय के 4 जजों के प्रेस कॉन्फ्रेंस को टाला जा सकता था, लेकिन सुप्रीम न्यायालय सभी जज बहुत ही अनुभवी  कुशल हैं  मुझे उम्मीद है कि शनिवार तक इस टकरावका हल हो जाएगा

प्रधानमंत्री ने की कानून मंत्री से बात
यह अपने आप में ऐतिहासिक घटना थी क्योंकि इससे पहले कभी किसी जज ने मीडिया के सामने आकर बयानबाजी नहीं की थी चार जजों के इस कदम से इंडियन पॉलिटिक्स में भूचाल मच गया मुख्‍य न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने उच्चतम कोर्ट के चार वरिष्ठतम न्यायाधीशों के संवाददाता सम्मेलन की पृष्ठभूमि में अटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल को मीटिंग के लिए बुलाया  उनसे चर्चा की खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद से मामले की जानकारी ली

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *