Thursday , April 26 2018
Loading...

डोनाल्ड ट्रंप ने पोर्न स्टार को क्यों दिए करोड़ों रुपए?

Image result for डोनाल्ड ट्रंप ने पोर्न स्टार को क्यों दिए करोड़ों रुपए?नई दिल्ली/वॉशिंगटन: मीडिया की एक समाचार में शनिवार (13 जनवरी) को को दावा किया गया कि साल 2016 में राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ने के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने अपने व्यक्तिगत एडवोकेट के जरिए एक वयस्क फिल्म स्टार को हर महीने कथित तौर पर 1,30,000 डॉलर दिए थे ताकि वह उनके साथ कथित यौन संबंधों पर चुप्पी साधे रहे व्हाइट हाउस ने ‘द वॉल स्ट्रीट जर्नल’ की समाचार पर टिप्पणी करने से मना कर दिया है ट्रंप के व्यक्तिगत एडवोकेटमाइकल कोहेन ने इसे ‘‘बेतुका आरोप’’ बताया है ऐसा बोला जा रहा है कि उन्होंने ही धनराशि देने की व्यवस्था की थी कोहेन के हवाले से बोला गया, ‘‘यह दूसरी बार है जब आप मेरे मुवक्किल के विरूद्ध बेतुके आरोप लगा रहे हैं आप एक वर्ष से यह झूठी कहानी गाते रहे हैं जबकि कम से कम साल2011 के बाद सभी पक्ष इस कहानी को लगातार खारिज करते रहे हैं ’’

कहा जाता है कि एक्स-रेटेड अभिनेत्री स्टीफेनी क्लिफोर्ड  ट्रंप के बीच साल2006 में यौन संबंध बने ट्रंप ने साल 2005 में मेलानिया से विवाह की थीराष्ट्रपति के विरूद्ध ताजा आरोपों के बारे में पूछे जाने पर व्हाइट हाउस के एक ऑफिसर ने कहा, ‘‘ये पुरानी  फिर से उछाली गई खबरें हैं जो चुनाव से पहले प्रकाशित हुईं तथा इन्हें पूरी तरह खारिज कर दिया गया ’’ बहरहाल, ऑफिसर ने अखबार की समाचार पर टिप्पणी करने से मना कर दियान्यूयॉर्क डेली न्यूज के मुताबिक, क्लिफोर्ड ने एक ईमेल भेजकर ट्रंप के साथ यौन संबंध होने से मना किया है

अफ्रीकी राष्ट्रों ने ट्रंप की नस्लवादी टिप्पणी पर जताया गुस्सा

यह भी पढ़ें:   आज भारत रवाना होंगे चीन में फंसे 25 भारतीय चिकित्सक...

वहीं दूसरी ओर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अफ्रीकी राष्ट्रों को ‘मलिन’ (शिटहोल) राष्ट्र कहने पर अफ्रीकी नेताओं ने तीखी रिएक्शन की, जबकि कई नेताओं ने ट्रंप पर नस्लवादी  अज्ञानता का आरोप लगायाशुक्रवार (12 जनवरी) को 55 सदस्यीय अफ्रीकी संघ ने इन टिप्पणियों की निंदा की, जबकि संयुक्त देश में अफ्रीकी महाद्वीप के सभी राष्ट्रों के राजदूतों ने ट्रंप से बयान वापसी  माफी की मांग की

Loading...
loading...

मीडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, संयुक्त देश में अफ्रीकी राजदूतों के समूह ने बोला कि वे बहुत ही निराश हैं  अमेरिकी राष्ट्रपति की घृणित, नस्लवादी दूसरे राष्ट्र के लोगों के प्रति नफरत भरी टिप्पणियों की कड़ी निंदा करते हैं ट्रंप की टिप्पणियों पर विचार करने के लिए बुलाए गए आपात सत्र में राजदूतों ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पर सहमति जताई

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   प्रतिस्पर्धाओं व दावों से कही आगे हैं भारत-आसियान के संबंध : PM मोदी
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *