Loading...

अमित शाह ने बोला कि तीन तलाक पर सजा के प्राविधान का कांग्रेस पार्टी ने किया विरोध

Image result for तीन तलाक पर सजा के प्राविधान का कांग्रेस पार्टी ने किया विरोध: अमित शाह बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बोला कि तीन तलाक के नाम पर मुस्लिम स्त्रियों के साथ अमानवीय व्यवहार होता था. केंद्र गवर्नमेंट ने जब उन्हें अधिकार देकर सजा का प्रावधान किया तो कांग्रेस पार्टी ने इसका विरोध कर अलग रंग देने की प्रयास की.

शाह शनिवार को महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के खेल मैदान में पार्टी के युवा उद्घोष प्रोग्राम को मुख्य मेहमान के तौर पर संबोधित कर रहे थे. राष्ट्रीय अध्यक्ष ने प्रदेश में बढ़ते विकास  कानून व्यवस्था कायम करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ की.

पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हो रहे काशी के विकास का जिक्र किया. बोलाकि आजादी के बाद अब तक इतना विकास कांग्रेस पार्टी ने किया था. काशी का भौतिक विकास के साथ आध्यात्मिक विकास होगा.

इस मौके पर योगी ने देश निर्माण के लिए युवा शक्ति को काशी से संदेश दिया.पुलिस में 1.62 लाख  शिक्षक में 1.37 लाख पदों पर आगामी तीन माह के भीतर भर्ती प्रक्रिया प्रारम्भ होगी. प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेंद्र नाथ पांडेय ने पीएम मोदी, शाह  मुख्यमंत्री के कार्यों की सराहना की.

काशी के बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे राष्ट्रीय अध्यक्ष का मुख्यमंत्री  प्रदेश अध्यक्ष डा महेंद्र नाथ पांडेय ने जोरदार स्वागत किया. यहां से सर्किट हाउस पहुंचे.जहां पार्टी पदाधिकारियों से भेंट करने के बाद महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के खेल मैदान पहुंचे.

यहां युवा उद्घोष प्रोग्राम में नए हिंदुस्तान के निर्माण के लिए पार्टी से जुड़ने वाले 18 से 35 वर्ष के युवाओं का स्वागत किया. यहां मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय अध्यक्ष को कुंभ का लोगो भेंट किया. इसके बाद कुबेर कांप्लेक्स में इंडियन रत्न एवं ज्वेलरी संस्थान के विस्तार केंद्र का फीता काटकर उद्घाटन किया.

यहां से शगुन लॉन में आयोजित संस्थान के प्रोग्राम में भाग लिया. शाह मुख्यमंत्री ने बाबा विश्वनाथ  कालभैरव मंदिर में दर्शन पूजन किया. इसके बाद बाबतपुर एयरपोर्ट पर शाह की विदाई कर मुख्यमंत्री भी रवाना हो गए.

यह भी पढ़ें:   बूचड़खानों का सफाया करने के मामले में हाईकोर्ट की दखल, CM को देना होगा जवाब
Loading...
loading...

युवा उद्घोष में नारी शक्ति दिखी ‘खामोश’

लक्ष्य साफ था, युवा उद्घोष के जरिये बनारसी समेत पूरे पूर्वांचल के नौजवानों में अपनी गहरी पैठ बनाना. लेकिन, इस युवा उद्घोष प्रोग्राम में नारी शक्ति पूरी तरह चुपचाप दिखी. प्रोग्राम में युवतियों, लड़कियों का नहीं होना स्पष्ट इशाराथा कि आधी आबादी का इस उद्घोष की आवाज पहुंच ही नहीं सकी.

वो भी तब, जब मंच पर नारी शक्ति का प्रतिनिधित्व करती हुईं मेयर, जिला पंचायत अध्यक्ष के साथ बेसिक एजुकेशन मंत्री मौजूद थीं. पार्टी ने युवा उद्घोष के जरिये नौजवानों को पार्टी से जोड़ने की मुहिम प्रारम्भ की है.

इसी कड़ी में खुद पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, CM योगी आदित्यनाथ के साथ कई दिग्गजों ने काशी विद्यापीठ में आयोजित प्रोग्राम में शिरकत की. पार्टी नेताओं ने इसे पास बनाने में पूरी ताकत भी झोंकी. युवाओं का पंजीकरण भी कराया. प्रोग्राम में 17 से 35 वर्ष के 17 हजार युवाओं की भागीदारी होनी थी.

वो बात इतर है कि प्रोग्राम में मौजूद भीड़ उनके आशा के अनुरूप नहीं थी लेकिन एक बात  खटक रही थी, वो ये कि इस युवा उद्घोष में आधी आबादी की हिस्सेदारी ना के बराबर थी. एक भी युवति इस युवा उद्घोष का भाग नहीं बनी.

चर्चा भी हुई  सवाल भी उठे कि आखिर बीजेपी ने इस प्रोग्राम में युवतियों, स्त्रियों की हिस्सेदारी क्यों नहीं होने दी? जबकि पार्टी खुद को आधी आबादी का पैरोकार मानती है  इधर बीच तीन तलाक का मुद्दा भी बहुत ज्यादा छाया हुआ है.

ऐसे में स्त्रियों की हिस्सेदारी तो बनती ही थी. कई लोगों का ये भी कहना था कि कई युवतियों ने औनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया था लेकिन प्रोग्राम में कोई पहुंचा नहीं.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   बड़ी खबर लीक हुई, भाजपा का यह चेहरा होगा यूपी का अगला मुख्यमंत्री!
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *