Loading...
Breaking News

ईश्वर कृष्ण को करना पड़ा था रुक्मणि से विवाह इस वजह से 

Image result for तो इस वजह से ईश्वर कृष्ण को करना पड़ा था रुक्मणि से विवाहभगवानकृष्ण और उनकी पत्नी रुक्मणि के संबंध में सभी जानते है माना जाता है कि माता लक्ष्मी ने ही रुक्मणि के रूप में जन्म लिया था लेकिन क्या आप जानते है कि भगवान् कृष्ण और रुक्मणि का शादी कैसे हुआ था? आइये विस्तार से जानते है उन दिनों भगवानकृष्ण  बलराम कि ख्याति सभी दिशाओं में फ़ैल रही थी उसी समय विदर्भ में राजा भीष्मक का शासन चलता था राजा भीष्मक के पांच पुत्र और एक पुत्री थी जिसका नाम रुक्मणि था रुक्मणि का रूप और तेज देखकर सभी उन्हें माता लक्ष्मी का स्वरुप मानते थे किन्तु राजा भीष्मक का पुत्र शिशुपाल था जो भगवान् कृष्ण को अपना दुश्मन मानता था  उनसे शत्रुता रखता था उसने अपने पिता से कहकर रुक्मणि का शादीतय कर दिया था जिसके संबंध में जानकर रुक्मणि बहुत दुखी हो गई थी  उन्होंने एक ब्राहमण के हांथों से ईश्वर कृष्ण को सन्देश भेजा जिसमे लिखा था 

हे नंदन में मन ही मन आपको पति के रूप में स्वीकार कर चुकी हूं इसलिय में आपके आलावा किसी अन्य पुरुष से शादी नहीं कर सकती तथा मेरी ख़्वाहिश के बिना ही मेरे भाई मेरा शादी अन्य कहीं करना चाहते है  हमारे कुल में जिस किसी का भी शादी होता है वह शादी से पूर्व नगर के बाहर गिरजा मंदिर दर्शन के लिए अवश्य जाता है में भी वहां दर्शन करने जाउंगी आप वहां आकर मुझे पत्नी रूप में स्वीकार करें वरना में अपने प्राणों का त्याग कर दूंगीं

जब भगवान् कृष्ण को यह सन्देश मिला तो वह तुरंत अपने रथ पर सवार होकर रुक्मणि को लेने के लिए निकल पड़े उन्होंने अपने रथ में उस ब्राह्मण को भी बिठा लिया दूसरी तरफ रुक्मणि शादी के वस्त्रों को धारण कर मंदिर पहुंची वहां कृष्ण को न पाकर उन्होंने माता गिरजा से ईश्वर कृष्ण को पति के रूप में पाने कि प्रार्थना करने लगी

यह भी पढ़ें:   जानिए जिस घर में होते है ये काम तो कभी नही रूकती लक्ष्मी, देखें विडियो
Loading...
loading...

रुक्मणि जैसे ही मंदिर से पूजा करके बाहर निकली उनकी नजर उस ब्राह्मण पर पहुंची जिसे उन्होंने भगवान् कृष्ण के पास भेजा था उस ब्राहमण को देख उन्हें समझने में जरा भी देर नही लगी कि भगवान् कृष्ण उन्हें लेने के लिए आ गए है जैसे ही वह अपने रथ में बैठने के लिए आगे बढ़ी भगवान् कृष्ण ने उनका हांथ खींच कर अपने रथ में बैठा लिया  द्वारका के लिए वायु वेग से निकल पड़ेतथा द्वारका पहुंचकर पूरे विधि विधान के साथ रुक्मणि से शादी किया

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   मंदिर जाते समय इन बातों का ध्यान रखे, देखें विडियो
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *