Loading...
Breaking News

मनोज तिवारी ने गृह मंत्रालय से कहा…

Image result for मनोज तिवारी ने गृह मंत्रालय से कहानई दिल्ली: दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने गृह मंत्रालय से इस आधार पर अपनी सुरक्षा बढ़ा कर जेड श्रेणी का करने का अनुरोध किया है कि वर्तमान सुरक्षा CM अरविंद केजरीवाल के आवास पर उन पर कथित हमले के दौरान  राज्यों के उनके प्रचार के मद्देनजर अपर्याप्त साबित हुई है

तिवारी सहित दिल्ली बीजेपी के नेताओं ने आरोप लगाया है कि शहर में सीलिंग अभियान से प्रभावित व्यापारियों को राहत मुहैया कराने का रास्ता निकालने के लिए जब वे लोग गत 30 जनवरी को केजरीवाल के आधिकारिक आवास गए थे तब वहां आप विधायकों  ‘‘असामाजिक तत्वों’’ ने ‘‘दुर्व्यवहार  हमला’’किया था तिवारी ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह को लिखे अपने लेटर में बोला कि उनके पास वाई श्रेणी की सुरक्षा है लेकिन हाल की घटनाओं के मद्देनजर वह अपर्याप्त साबित हुई है

उन्होंने अपने लेटर में लिखा है, ‘‘दो घटनाएंपश्चिम बंगाल गवर्नमेंट द्वारा राज्य में प्रचार के दौरान सुरक्षा मुहैया कराने से मना करना  दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल के आवास पर हमलायह साबित करने के लिए पर्याप्त हैं कि वर्तमान सुरक्षा व्यवस्था पर्याप्त नहीं हैं ’’ उन्होंने पार्टी के ‘‘प्रचार  विस्तार’’ के लिए अन्य राज्यों के अपने दौरों का उल्लेख किया  सिंह से जेड श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराने का अनुरोध किया उत्तर पूर्व दिल्ली से सांसद तिवारी राजधानी के नार्थ एवेन्यू में रहते हैं

BJP ने बताया ‘आप’ की गुंडागर्दी
इससे पहले भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आरोप लगाया था कि सीलिंग के निवारण के लिए CM अरविंद केजरीवाल ने अपने निवास पर बुलाकर उनका अपमान किया  विधायकों के साथ धक्का-मुक्की की उधर, दिल्ली गवर्नमेंट ने बोला था कि वे सीलिंग पर अस्थाई रोक लगाने के लिए सुप्रीम न्यायालय का दरवाजा खटखटाएंगे

दिल्ली में इन दिनों सीलिंग चल रही है सीलिंग के लिए दिल्ली गवर्नमेंट  भाजपा में ठनी हुई हैदोनों ही सीलिंग को लेकर एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रही हैं भाजपा का आरोप है कि यह सीलिंग दिल्ली गवर्नमेंट के इशारों पर हो रही है उधर, दिल्ली गवर्नमेंट का कहना है कि सीलिंग को रोकने का अधिकार या तो उपराज्यपाल के पास है या फिर केंद्र गवर्नमेंट के पास

CM आवास पर BJP के विरूद्ध नारेबाजी
इस मुद्दे पर निवारण के लिए बीच का रास्ता निकालने के लिए दिल्ली भाजपा इकाई ने एक लेटरलिखकर CM अरविंद केजरीवाल से मिलने का समय मांगा था तय समय के मुताबिक दिल्ली प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी के नेतृत्व में दिल्ली के पांच सांसद, तीन विधायक, तीनों नगर निगमों के मेयर  अन्य नेता मंगलवार की प्रातः काल 10 बजे CM अरविंद केजरीवाल के आवास पर पहुंचे

वहां पहले से ही मौजूद आप के सभी विधायक  मीडिया को देखकर मनोज तिवारी भड़क गएउन्होंने बोला कि वे यहां समस्या के निवारण के लिए बातचीत के लिए आए हैं न कि किसी रैली में शामिल होने के लिए इस पर केजरीवाल ने बोला कि समस्या जनता का है इसलिए वार्ता भी सभी सामने होनी चाहिए

यह भी पढ़ें:   CM योगी कान्हा उपवन का निरीक्षण करने जाएंगे
Loading...
loading...

विधायक के साथ धक्का-मुक्की
वार्ता के लिए सुलह ना होते देख भाजपा नेता CM आवास से बाहर आ गए आवास के बाहर मौजूद आप कार्यकर्ताओं ने भाजपा के विरूद्ध नारेबाजी  विधायक विजेंद्र गुप्ता के साथ धक्का-मुक्की भी की मनोज तिवारी ने इसे पार्टी  जनता का अपमान बताया विजेंद्र गुप्ता सीधे मॉडल टाउन थाने पहुंचे  आम कार्यकर्ताओं के विरूद्ध बदसलूकी  धक्का-मुक्की की शिकायत दर्ज कराई

जनता के सामने नहीं आना चाहती बीजेपी
इस मामले के बाद CM अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस करके बोला कि भाजपा इस मुद्दे पर खुलकर बात करना नहीं चाहती, इसलिए गवर्नमेंट पर निराधार आरोप लगा रही है अरविंद केजरीवाल ने बोला कि इस समस्या के निवारण के लिए दिल्ली गवर्नमेंट ने 5 बिंदुओं का एक लेटरउपराज्यपाल को लिखा था लेकिन उपराज्यपाल ने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की

सुप्रीम न्यायालय जाएगी AAP
केजरीवाल ने बोला था कि दिल्ली नगर निगम ने पिछले तीन वर्षों में कनवर्जन चार्ज के रूप में करीब 3 हजार करोड़ रुपये वसूले हैं, लेकिन चार्ज वसूलने के बाद भी सीलिंग की जा रही है उन्होंने बोला कि सीलिंग पर अस्थाई रोक की मांग के लिए वे सुप्रीम न्यायालय जाएंगे

संसद का घेराव
सोमवार (29 जनवरी) को सीलिंग के विरूद्ध आम आदमी पार्टी ने संसद के घेराव की भी प्रयास कीइस दौरान प्रदर्शनकारियों की पुलिस से झड़प भी हुई इस झड़प में कई लोग घायल हुए थे पार्टी के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने बोला कि सीलिंग के विरूद्ध सिविक सेंटर पर क्रमिक अनशन प्रारम्भकिया जाएगा वहां पहले से ही मौजूद आप के सभी विधायक  मीडिया को देखकर मनोज तिवारी भड़क गए उन्होंने बोला कि वे यहां समस्या के निवारण के लिए बातचीत के लिए आए हैं न कि किसी रैली में शामिल होने के लिए इस पर केजरीवाल ने बोला कि समस्या जनता का है इसलिए वार्ता भी सभी सामने होनी चाहिए

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   सीएम योगी का 24 घंटे बिजली देने के लिए ये है अगला कदम
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *