Loading...
Breaking News

8 करोड़ परिवारों को मिलेगा मुफ्त गैस कनेक्शन, जानें कैसे?

Related imageनई दिल्ली: पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र मुख्य ने बोला कि पीएम उज्ज्वला योजना (पीएमयूवाई) के तहत मार्च 2022 तक तीन करोड़ अलावा परिवारों को मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन उपलब्ध कराये जाएंगे इस पर 4,800 करोड़ रुपये का अलावा खर्च आएगा पीएमयूवाई की शुरूआत मई 2016 में की गयी इसके तहत तीन वर्ष में 5 करोड़ परिवार को एलपीजी कनेक्शन उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया इसके तहत 3.36 करोड़ कनेक्शन पहले ही दिये जा चुके हैं 

मंत्रिमंडल के कल के निर्णय के बारे में संवाददाताओं को जानकारी देते हुए मुख्य ने बोला कि वित्त साल 2018-19 तक 5 करोड़ मुफ्त कनेक्शन उपलब्ध कराये जाएंगे  कुल बजटीय आबंटन 8,000 करोड़ रुपये है अब इस योजना की अवधि एक वर्ष बढ़ा दी गयी है तथा पांच करोड़ के अतिरिक्त तीन करोड़  परिवार को कनेक्शन दिये जाएंगे इसके लिये 4,800 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है

1,600 करोड़ रुपये की सब्सिडी 
योजना के तहत गवर्नमेंट सार्वजनिक एरिया की खुदरा ईंधन कंपनियों को प्रत्येक मुफ्त एलपीजी कनेक्शन के लिये 1,600 करोड़ रुपये की सब्सिडी उपलब्ध कराती है सब्सिडी के भीतर सिलेंडर के लिये जमानत राशि  उसे लगाने से जुड़े शुल्क आते हैं लाभार्थी को अपने स्वयं का खाना बनाने का स्टोव लेना होता हैइस बोझ को कम करने के लिये लाभार्थियों को स्टोव  पहली बार गैस सिलेंडर भराने की राशि किस्तों में देने की अनुमति है 

यह भी पढ़ें:   आरबीआई : एसबीआई-महिला बैंक का विलय 1 अप्रैल को
Loading...
loading...

एक परिवार 14.2 किलो के सिलेंडर को सात बार भरवाता है
मुख्य ने बोला कि अबतक कनेक्शन 2011 के सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना (एसईसीसी) के आधार पर दिये जाते हैं लेकिन सूची का विस्तार किया गया है  इसमें सभी अनुसूचित जाति : अनुसूचित जनजाति परिवार, वनवासी, अत्यंत पिछड़ा वर्ग, द्वीपों, चाय बगानों में रहने वालों तथा पीएम आवास योजना एवं अंत्योदय योजना के लाभार्थियों को भी शामिल किया गया है उन्होंने बोला कि कुल 3.36 करोड़ पीएमयूवाई लाभार्थियों में से 2 करोड़ लाभार्थियों के अध्ययन से पता चला है कि 80 फीसदी परिवार ने एलपीजी कनेक्शन लेने के बाद उसे दोबारा भरवाया मंत्री ने बोला कि औसतन एक परिवार 14.2 किलो के सिलेंडर को सात बार भरवाता है, वहीं पीएमयूवाई लाभार्थी 4.07 सिलेंडर की खपत कर रहे हैं उन्होंने कहा, ‘‘यह बहुत उत्साहजनक खपत प्रवृत्ति है

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   सर्दी में गुड़ खाने वालों को बड़ा झटका, जानें
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *