Loading...
Breaking News

शहला राशिद ने कहा, मुस्लिम लड़कियों को हिन्दू लड़कों से विवाह की आज़ादी हो

Related imageनई दिल्ली : दिल्ली के पास ख्याला के अंकित सक्सेना की मुस्लिम लड़की से प्यार करने के कारण हुई मर्डर का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था, कि अब जेएनयू की छात्रा औऱ पूर्व जेएनयूएसयू की उपाध्यक्ष शहला राशिद का मुस्लिम लड़कियों को लेकर विवादित बयान सामने आया है राशिद ने मुस्लिम स्त्रियों  लड़कियों को गैर मुस्लिमों से विवाह  प्रेम करने की आज़ादी की मांग की है

एक अख़बार के अनुसार शहला राशिद ने लव जिहाद  अंकित सक्सेना की मौत पर अपने विचार फेसबुक पर प्रकट करते हुए बोला कि अगर हम प्यार के लिए अपने दरवाजे नहीं खोलेंगे तो हम नफरत की आंधी में जलना डिजर्व करते हैं उन्होंने बोला कि स्त्रियों को समुदायों की आस्था परंपरा के नाम पर बंधक बनाकर रखा जा रहा है यह ऐसा धर्म है जो आदमियों की सुविधा के हिसाब से चलता है

इस बारे में शहला राशिद ने अपने फेसबुक पर हादिया को शफीन जहां का जिक्र कर बोला कि जैसे उसको चुनने का अधिकार है, वैसे ही दूसरी बालिग मुस्लिम महिला को भी अंकित सक्सेना को चुनने का अधिकार है उन्होंने दावे के साथ बोला कि यह अधिकार हमें संविधान से मिला है न कि मुस्लिम  हिंदू कानूनों से शहला राशिद ने बेबाकी से यह भी बोला कि स्पेशल मैरिज एक्ट मेंहर इंडियननागरिक को यह अधिकार है, कि वह बिना धर्म परिवर्तित किए दो बालिग विवाह कर सकते हैंहालाँकि राशिद की इस पोस्ट को लेकर खूब आलोचना भी हो रही है  फेसबुक  ट्वीटर पर शहला राशिद ट्रोल भी हो रही है उसकी बात हकीकत है, लेकिन सामाजिक रूढ़ियों के कारण स्त्रियों को आज़ादी नहीं मिल पाई है

यह भी पढ़ें:   इस टीचर ने अपने जेवर बेचकर किया ये काम बच्चों के लिए...
Loading...
loading...
Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *