Tuesday , April 24 2018
Loading...

9 अप्रैल से मिलेंगे फॉर्म, 14 कॉलेजों में दाखिले के लिए ‘लुआकमैट’ 20 जून को

Image result for खनऊ यूनिवर्सिटी एसोसिएट कॉलेज एडमिशनराजधानी के 14 प्रतिष्ठित कॉलेजों में स्नातक के प्रोफेशनल  मैनेजेंट कोर्स में दाखिले के लिए होने वाली लखनऊ यूनिवर्सिटी एसोसिएट कॉलेज एडमिशन टेस्ट (लुआकमैट-2017) का आयोजन 20 जून को होगा.

नेशनल पीजी कॉलेज इसका आयोजन कर रहा है. इसके लिए औनलाइन आवेदन फॉर्म 27 मार्च से नेशनल पीजी कॉलेज की वेबसाइट पर मिलेंगे. कॉलेज परिसर से ऑफलाइन आवेदन फॉर्म 9 अप्रैल से प्राप्त किए जा सकेंगे. नेशनल पीजी कॉलेज में बुधवार को प्राचार्य डॉ नीरजा सिंह की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में यह निर्णय किया गया.

डॉ नीरजा सिंह ने बताया कि अभी तक 14 कॉलेजों ने इसमें शामिल होने के लिए मंजूरी दी है.प्रोफेशनल  मैनेजमेंट कोर्स में इस समय 2000 से ज्यादा सीट हैं. उन्होंने बताया,महाविद्यालय पिछले 10 वर्ष से लुआकमैट का आयोजन कर रहा है.

इस साल प्रवेश इम्तिहान 20 जून को होगी. प्रवेश इम्तिहान के लिए आवेदन लेटर एवं नियमावली 27 मार्च से  महाविद्यालय की वेबसाइट www.npgc.in पर उपलब्ध होंगे.

यह भी पढ़ें:   राम मंदिर निर्माण को लेकर संकल्प मार्च निकालने का प्रयास कर रहे हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष गिरफ्तार
Loading...
loading...

आवेदन फॉर्म औनलाइन या ऑफलाइन जमा करने की अंतिम तारीख 12 जून निर्धारित की गई है.इस वर्ष पंजीकरण या इम्तिहान शुल्क में किसी प्रकार की बढ़ोतरी नहीं की गई है.

डॉ नीरजा सिंह ने बताया कि सभी कॉलेजों को उनके यहां की सीट संख्या 13 अप्रैल तक फाइनल करके देने को बोला गया है. जो कॉलेज इसमें शामिल होना चाहते हैं, वे नेशनल कॉलेज में संपर्क कर सकते हैं.

इन कोर्स के लिए होता है लुआकमैट

लुआकमैट के माध्यम से बीबीए, बीबीए एमएस, बीबीए टूरिज्म, बीसीए, बीकॉम ऑनर्स, बीजेएमसी, बीबीए आईबी, बीवोक-बैंकिंग एंड फाइनेंस, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट एंड ई-कॉमर्स पाठ्यक्रमों में दाखिले लिए जाते हैं. प्रवेश इम्तिहान में मिले नंबर के आधार पर मेरिट तैयार की जाती है. इस मेरिट के आधार पर काउंसलिंग के माध्यम से कॉलेज का आवंटन किया जाता है.
महाविद्यालय में हुई मीटिंग में मॉडर्न कॉलेज, रामस्वरूप, लखनऊ पब्लिक कॉलेज, एलबीएस, शेरवुड कॉलेज, एसएमएस कॉलेज, जीसीआरजी ग्रुप, टेक्नो इंस्टीट्यूट, आर्यकुल कॉलेज, कॉलेज ऑफ इनोवेटिव, गोयल इंस्टीट्यूट, दयाल ग्रुप, शिया पीजी कॉलेज, नेशनल पीजी कॉलेज के प्रतिनिधियों ने भाग लिया. यह संख्या आगे बढ़ भी सकती है.
Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   अखिलेश ने कहा, सांप्रदायिक सौहार्द के पर्व के रूप में मनानी चाहिए होली
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *