Tuesday , October 23 2018
Loading...

अमेरिका, सहयोगी राष्ट्रों ने सीरिया पर हमला किया

नई दिल्ली/दमिश्कः अमेरिका,ब्रिटेन  फ्रांस ने कथित रसायनिक हथियार हमलों के जवाब में सीरियाई गवर्नमेंट के विरूद्ध शनिवार तड़के कई हवाई हमले किये विस्फोटों से सीरिया दहल गया आसमान में घना धुआं उठता देखा गया अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले हफ्ते किये गये कथित गैस हमले को ‘‘दानवी अपराध’’ करार देते हुए व्हाइट हाउस में एक संबोधन में राष्ट्रपति बशर अल असद गवर्नमेंट के विरूद्ध कार्रवाई की घोषणा की ट्रंप ने दमिश्क के सहयोगी रूस के कड़ी चेतावनी के बावजूद कार्रवाई की बात कहीImage result for हमला, विस्फोटों

घोषणा के कुछ मिनट बाद शहर में मौजूद के एक संवाददाता ने लगातार कई विस्फोटों की आवाज सुनी  बाशिंदे अपनी बालकनी की ओर दौड़े जिसके बाद 45 मिनट तक विस्फोटों  विमानों की आवाज आई राजधानी के कई भागों से घना धुआं उठता देखा गया

पश्चिमी राष्ट्रों के अधिकारियों ने बोला कि सीरियाई गवर्नमेंट के विरूद्ध अब तक के सबसे बड़ी विदेशी सैन्य कार्रवाई में क्रूज  हवा से जमीन पर मारक क्षमता वाली मिसाइलों से हमला किया गया उन्होंने बोला कि जिन जगहों पर हमला किया गया वे रसायनिक हथियार विकास से जुड़े स्थल हैं

अमेरिकी सेना ने बोला कि जिन जगहों पर निशाना साधा गया उनमें दमिश्क इलाके में एक वैज्ञानिक अनुसंधान केन्द्र, होम्स शहर के पश्चिम में स्थित एक रसायनिक हथियार भंडारण केन्द्र  होम्स के पास वह स्थान शामिल है जहां एक कमान पोस्ट तथा रसायनिक हथियार उपकरण भंडारण केन्द्र दोनों थे

Loading...

आज जिन केन्द्रों पर निशाना बनाया गया उनके बारे में बोला जा रहा है कि उन्हें हाल के दिनों में खाली कराया गया था सीरिया सरकारी मीडिया ने समाचार दी कि केवल तीन लोग घायल हुए जबकि रूस के रक्षा मंत्रालय ने बोला कि सीरियाई नागरिकों तथा सैन्यकर्मियों में से कोई ‘‘हताहत’’ नहीं है अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने अमेरिका, ब्रिटेन  फ्रांस द्वारा सीरियाई शासन के विरूद्ध ‘‘बेहतरीन ढंग से’’ किये गये हमलों की प्रशंसा की  घोषणा की, ‘‘मिशन पूरा हो गया है ’’

loading...

 

हमले के बाद पहली रिएक्शन में ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘‘कल रात बेहतरीन ढंग से हमला किया गया फ्रांस ब्रिटेन को उनकी बुद्धिमत्ता तथा उनकी शानदार सेना की शक्ति को धन्यवाद ’’ उन्होंने कहा, ‘‘परिणाम इससे बेहतर नहीं हो सकते थे मिशन पूरा हुआ ’’ ट्रंप ने बोला कि ये हमले विद्रोहियों के कब्जे वाले डाउमा में सात अप्रैल को हुए कथित रसायनिक हमले का सीधा जवाब हैं माना जा रहा है कि इस रसायनिक हमले में 40 से अधिक लोगो की मौत हुई थी

अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने हमलों को ‘‘एक बार का हमला’’ बताया  बोला कि फिल्हाल अलावा सैन्य कार्रवाई की कोई योजना नहीं है रसायनिक हथियारों के इस्तेमाल से इंकार करने वाले  अपने प्रतिद्वंद्वियों को ‘‘आतंकवादी’’ कहकर उनकी निंदा करने वाले असद ने हमलों पर बागी सुर अपनाएउन्होंने कहा, ‘‘यह आक्रामकता सीरिया  इसके लोगों को राष्ट्र में हर स्थान आतंकवाद से लड़ने तथा आतंकवाद को कुचलने के लिए  प्रतिबद्ध बनाएगी ’’

रूस ने हमलों को ‘‘आक्रामकता वाली कार्रवाई’’ बताकर इनकी निंदा की  संयुक्त देश सुरक्षा परिषद के आपातकालीन सत्र की मीटिंग बुलाई असद के अन्य सहयोगी ईरान ने भी हमले की निंदा की  इसके शीर्ष नेता अयातुल्लाह अली खमैनी ने पश्चिमी नेताओं को ‘‘अपराधी’’ करार दिया चाइना ने इस हमले का विरोध किया है जबकि तुर्की ने इस हमले का स्वागत किया है मध्य दमिश्क की एक रैली में 48 वर्ष के नेधर हम्मौद ने अमेरिकी मिसाइलों को ‘‘मार गिराते’’ देखने का दावा किया

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *