Sunday , May 27 2018
Loading...

पत्रकार जे डे हत्याकांड: सात वर्ष बाद आज न्यायालय सुनाएगी फैसला, जानें

पत्रकार ज्योतिर्मय डे की मर्डर मामले में मुंबई की विशेष सीबीआइ न्यायालय सात वर्ष बाद बुधवार को अपना निर्णय सुनाएगी. इस मामले में 11 आरोपित हैं. जे डे की 11 जून, 2011 को मुंबई के पोवई इलाके में गोली मारकर मर्डर कर दी गई थी.Image result for पत्रकार जे डे हत्याकांड

जे डे की बहन लीना डे ने मंगलवार को कहा, ‘एक भी आरोपित बरी नहीं होना चाहिए. सभी को फांसी की सजा होनी चाहिए.‘ उन्होंने तल्ख लहजे में सवाल किया, ‘ऐसा क्यों है कि हम भुगत रहे हैं  वे (आरोपित) स्वतंत्र हैं  मजे कर रहे हैं.‘ उन्होंने अंदेशा जताया कि सभी आरोपित पावरफुल लोग हैं जिनके बहुत ज्यादा संपर्क हैं. संभव है कि वे सभी बरी हो जाएं. लीना अभी भी अपने भाई की मौत के सदमे से उबर नहीं पाई हैं. उनकी मां का भी पिछले वर्ष निधन हो गया था.

इस मामले के आरोपियों में माफिया डॉन राजेंद्र एस निखलजे ऊर्फ छोटा राजन  मुंबई के पत्रकार जिगना वोरा शामिल हैं. मुख्य आरोपी राजन नयी दिल्ली के तिहाड़ सेंट्रल कारागार में बंद है.जांचकर्ताओं के अनुसार, छोटा राजन ने मुंबई के संवाददाता डे को मारने के आदेश दिए थे.

यह भी पढ़ें:   जानिए आपके लिए कौन सी कार खरीदना बेहतर, डीजल, पेट्रोल या सीएनजी?
Loading...

मामले की जांच पहले पुलिस कर रही थी, लेकिन बाद में इसकी जटिलता को देखते हुए इसे क्राइमशाखा को सौंप दिया गया.महाराष्ट्र संगठित क्राइम नियंत्रण कानून (मकोका) से संबंधित विशेष न्यायालय ने इस मामले की अंतिम सुनवाई फरवरी में प्रारम्भ की थी.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *