Monday , June 25 2018
Loading...

किसानों को मोबाइल पर हर मिनट मौसम की जानकारी देगा आइआइटी

कानपुर . प्रदेश में किसानों को मौसम की जानकारी सरलता से मिल सकेगी. उनके मोबाइल पर 24 घंटे में चार- पांच बार कॉल आएगी. यह कंप्यूटर द्वारा ऑटोमैटिक रहेगा. सूचनाएं हिेंदी या क्षेत्रीय भाषा में प्रसारित की जाएंगी. अगर Smart Phone है तो उन्हें एप के माध्यम से हर मिनट की जानकारी मिलेगी. इंडियन प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) प्रदेश को मौसम के पूर्वानुमान की जानकारी देगा. भीषण गर्मी, सर्दी, बारिश, ओले, तेज आंधी के बारे में पहले ही पता चल जाएगा.Image result for किसानों को मोबाइल पर हर मिनट मौसम की जानकारी देगा आइआइटी

संस्थान के वैज्ञानिक गवर्नमेंट के साथ मिलकर अत्याधुनिक वेदर (मौसम) मॉनिटरिंगस्टेशन  क्लाउड (बादल) मॉनिटरिंगस्टेशन कई जिलों में बनाएंगे. आइआइटी के कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग, डिजाइन इंजीनियरिंग, इंवायरमेंटल साइंस, सिविल इंजीनियरिंग विभाग मिलकर कार्य कर रहा है.

मुख्यमंत्री  निदेशक के बीच सहमती
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  आइआइटी के निदेशक प्रो अभय करंदीकर के बीच मौसम संबंधी जानकारी को लेकर चर्चा हुई थी, जिसमें ऐसी तकनीक विकसित करने की बात हुई, जो किसानों के लिए सुलभ हो. खेती-किसानी के बीच उसका सरल से इस्तेमाल किया जा सके. उसके बाद संस्थान के विशेषज्ञों ने प्लानिंग प्रारम्भ कर दी. प्रो अभय करंदीकर ने बताया कि रक्षा गलियारा, स्वास्थ्य, आपदा प्रबंधन, कृषि समेत कई क्षेत्रों में आइआइटी काम कर रही है. प्रदेश गवर्नमेंट ने मौसम की जानकारी किसानों तक पहुंचाने की तकनीक विकसित करने के लिए बोला है. संस्थान इस दिशा में काम कर रहा है.

यह भी पढ़ें:   गर्मी का कहर बरकरार, छाए रहेंगे बादल तेज हवाओं के साथ
Loading...

कृषि बस की कंप्यूटरीकृत डिजाइन हो रही तैयार 
आइआइटी ने पिछले महीने विज्ञान बस लांच की. इसमें कई मॉडल  कई रोचक जानकारियां थीं. यह यूपीविभिन्न जिलों के स्कूलों में जाकर छात्र-छात्राओं को जागरूक करेगी. अब संस्थान का डिजाइन विभाग कृषि बस की कंप्यूटरीकृत डिजाइन तैयार कर रहा है. उसमें किसानों के लिए बहुत ज्यादा कुछ रहेगा. फसल, कीट, रोग, मित्रकीट, खरपतवार, जैविक खेती आदि के बारे में बताया जाएगा. क्या नयी तकनीक आ रही है, कैसे उत्पादकता बढ़ाई जाए आदि जानकारियां इससे मिल सकेंगी.

अलर्ट की स्थिति में आएगी कॉल
आइआइटी विशेषज्ञों के मुताबिक डिजिटल मॉनिटरिंग स्टेशन बनाने की तैयारी चल रही है. इसमें हर मिनट के डाटा रिकार्ड होंगे. यह अपने आप मौसम की जानकारी मोबाइल पर कॉल के रूप में जारी करेगा. कई बार मैसेज भी जारी होंगे. अगर अलर्ट की स्थिति आती है तो उसकी कॉल भी आएगी.

यह भी पढ़ें:   गवर्नमेंट पर दबाव डालने के लिए दिल्ली दौरे पर नायडू, बोले...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *