Monday , June 25 2018
Loading...

पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी पर बिफरे चिदंबरम, कहा…

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री  कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने पेट्रोल-डीजल  एलपीजी के बढ़ते दामों पर सोमवार (11 जून) को केंद्र गवर्नमेंट की खिचाई की उन्होंने भाजपानीत मोदी गवर्नमेंट पर उपभोक्ताओं को लूटने का आरोप लगाया चिंदबरम ने कहा, ‘मनमाने तरीके से पेट्रोल-डीजल-एलपीजी के बढ़ाए जा रहे हैं, जिसकी वजह से राष्ट्र में चारों ओर गुस्से का माहौल है मई-जून 2014 की तुलना में आज कीमतें क्यों आसमान छू रही हैं, वास्तव में इसके पीछे कोई वजह नहीं है यह कुछ नहीं, बल्कि लाचार उपभोक्ताओं को निचोड़ा जा रहा है ‘Image result for पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी पर बिफरे चिदंबरम, कहा

इससे पहले चिदंबरम ने रविवार (10 जून) को नरेंद्र मोदी गवर्नमेंट की आलोचना करते हुए बोला कि विकास की रट लगाई जा रही है  राष्ट्र में विकास का हाल यह है कि दो वर्ष में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) दर 8.2 प्रतिशतसे घटकर 6.7 प्रतिशत हो गई उन्होंने बोला कि मौजूदा गवर्नमेंट के चार वर्ष के कार्यकाल में जीडीपी दर सुस्त रही  बैंकों के फंसे हुए कर्ज (एनपीए) 2,63,015 करोड़ रुपये से बढ़कर 10,30,000 करोड़ रुपये हो गए  बैंकिंग प्रणाली दिवालिया हो गई

चिदंबरम ने श्रंखलाबद्ध ट्वीट के जरिए बोला था, “केंद्रीय सांख्यिकी ऑफिस (सीएसओ) द्वारा जारी किए गए आर्थिक आंकड़ों के बाद मीडिया में सिर्फ एक ही आंकड़ा 7.7 प्रतिशत आया ” उन्होंने कहा, “यह वित्तवर्ष 2017-18 का जीडीपी वृद्धि दर के रूप में निस्संदेह सुन्दर था, मगर वास्तव में यह चौथी तिमाही का आंकड़ा था, जबकि पूरे वर्ष की जीडीपी वृद्धि दर सुस्ती के साथ 6.7 प्रतिशत रही ”

यह भी पढ़ें:   देश के कई शहरों में कैश की किल्लत, वित्त मंत्री ने कहा...
Loading...

चिदंबरम ने तंज कसा, “चार वर्ष के अंत में गवर्नमेंट वाकई साफ नीयत, सही विकास की राह पर चल पड़ी है ” उन्होंने बोला कि साख वृद्धि में भी भारी गिरावट आई है  यह 2017-18 में सुधार से पहले 13.8 प्रतिशत से घटकर 5.4 प्रतिशत हो गई पिछले चार वर्ष में सालना साख वृद्धि दर 5.6, 2.7,1.9  0.7 प्रतिशत रही

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *