Breaking News

बड़ा खुलासा: सीएम अखिलेश के इस बड़े ड्रीम प्रोजेक्ट से बरामद हुआ 60 किलो सोना, तो फिर…

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वेमैनपुरी: यूपी के सीएम अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर अभी गाड़ियों ने रफ़्तार भले ही नहीं पकड़ी हो, लेकिन अपराध शुरू हो चुके हैं। जी हां कल देर शाम करहल पुलिस ने वाहन चेकिंग करते समय 60 किलो सोने के बिस्किट बरामद किए हैं। जिसकी कीमत लगभग 17 करोड़ रुपये बताई जा रही है। इतना सोना बरामदगी के बाद इलाके में सनसनी फैल गई। पुलिस द्वारा जांच करने पर पता चला है कि यह एचडीएफसी बैंक का है।

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर पकड़ा गया सोना

फ़िलहाल बैंक के दस्तावेजों से पुलिस टीम संतुष्ट नहीं हैं। जिसके चलते सोने को जब्त कर कोषागार में जमा करा दिया है। दरअसल उडऩ दस्ता टीम के मजिस्ट्रेट वन क्षेत्राधिकारी सतीश कुमार करहल पुलिस व अपनी टीम के साथ एक्सप्रेस वे पर वाहन चेक कर रहे थे, तभी आगरा से आगरा से आते एक वाहन को रोककर तलाशी ली, तो उसमें साठ किलो सोने के बिस्किट बरामद हुए। जिसमे वाहन चालक समेत चार लोग सवार थे। इनमें से एक का नाम शिवेंद्र का कहना है कि वह एचडीएफसी बैंक के गोल्ड कस्टोडियन हैं। बैंक का सोना आगरा से लखनऊ शाखा पर जमा कराने ले जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें:   वाहन चेकिंग के दौरान सपा नेता की गाडी से 18 लाख रुपये बरामद
loading...
Loading...

पुलिस ने बैंक से मांगे कागजात
जिस वाहन में सोने के बिस्किट बरामद हुए, वह सिक्योरिटी ट्रांस कंपनी का है। गाड़ी में दो सुरक्षा गार्ड भी थे। जांच कर रहे अधिकारियों को वाहन सवारों ने जो कागजात दिखाए वह जिससे उससे संतुष्ट नहीं हैं। फिलहाल सोने को कब्जे में लेकर कोषागार में जमा करा दिया है। वहीं सीजर अधिकारी तथा सीडीओ मैनपुरी वीके गुप्ता ने बताया कि बैंक से कागजात मंगाए हैं। जांच में सही मिलने पर सोना छोड़ दिया जाएगा। आपको ये भी बता दें कि एचडीएफसी बैंक के क्लस्टर हेड संजय पाण्डेय ने बताया कि मुझे बैंक का सोना जब्त होने की कोई सूचना नहीं मिली है।

यह भी पढ़ें:   बड़ा खुलासा: प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के दो अधिकारियो को रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया

मुख्य ब्रेकिंग न्यूज़ अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक तथा ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करे।

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *