Tuesday , September 25 2018
Loading...
Breaking News

अभी नहीं मिलेगा 100 रुपए का नया नोट, जानें क्यों?

नई दिल्ली: ने की पहली तस्वीर तो जारी कर दी है, लेकिन बाजार में इस नोट को आने में करीब 1 वर्ष लगेगादरअसल, एटीएम को लायक बनाने में कंपनियों को राष्ट्र के 2.4 लाख मशीनों को रिकैलिब्रेट करना होगा  नए नोट का आकार मौजूदा 100 रुपए के नोट से अलग होगा  इसके लिए एटीएम को रिकैलिब्रेट किए जाएंगेएटीएम ऑपरेशन इंडस्ट्री के मुताबिक, नए नोटों की वजह से इस पर 100 करोड़ रुपए खर्च होंगे यही वजह है कि नोट के मार्केट में आने में वक्त लगेगाImage result for अभी नहीं मिलेगा 100 रुपए का नया नोट, आने में लगेगा 1 साल

फंसा ATM का पेंच
आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि हाल ही में 200 रुपए का नोट जारी किया गया था  इसके लिए भी एटीएम को रिकैलिब्रेट करना पड़ा इंडस्ट्री के जानकारों का कहना है 200 रुपए के नोट के लिए सभी एटीएम को रिकैलिब्रेट करने का कार्य समाप्त भी नहीं हुआ है कि नया नोट आ गया है लाने का ऐलान कर दिया है, लेकिन आपको सभी ATM पर यह नोट मिलने में 1 वर्ष तक का समय लग सकता है

Loading...

नए नोट के साइज से रीकैलिबरेट होंगे ATM
एटीएम सर्विस मुहैया कराने वाली कंपनी एफएसएस के डायरेक्‍टर, सीएटीएमआई एंड प्रेसीडेंट वी बालासुब्रमणियम के मुताबिक, किसी नोट के साइज में परिवर्तन होने से एटीएम को उस नोट के साइज के हिसाब से रिकैलिब्रेट करना पड़ता है अब सवाल यह है कि हम एटीएम को नए  पुराने दोनों तरह के नोट के हिसाब से कैसे रिकैलिब्रेट करें ऐसे में एटीएम में पुराने नोट का जारी रहना  एटीएम चैनल के जरिए नए नोट पेशन होना उसकी उपलब्‍धता यह सुनिश्चित करेगी कि इसे रिकैलिब्रेट किया जाए या नहीं

loading...

लगेगा एक साल
बैंक अधिकारियों के मुताबिक, के हिसाब से 2.4 लाख एटीएम को रिकैलिब्रेट करने में 12 माह का समय लगेगा कम से कम 100 करोड़ रुपए की लागत आएगी अभी 200 रुपए के नए नोट के हिसाब से सभी एटीएम रिकैलिब्रेट करने की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है इसके बाद के हिसाब से उन्हें रिकैलिब्रेट करना होगा इसमें अभी वक्त लगेगा

साइज
नया नोट आकार में पुराने 100 के नोट से छोटा और 10 के नोट से छोटी बड़ा होगा इसका साइज 66 mm×142 mm है रिजर्व बैंक ने बोला है पुराने 100 रुपए के नोट भी लीगल टेंडर यानी वैध रहेंगे जब नए डिजाइन में नोट जारी किए जाते हैं तक उसकी छपाई  आम लोगों तक सप्‍लाई के लिए उसका डिस्‍ट्रीब्‍यूशन धीरे-धीरे बढ़ता है

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *