Tuesday , November 20 2018
Loading...
Breaking News

बिग बॉस के घर में आयी सचिन तेंदुलकर को याद कर रो पड़े श्रीसंत

नई दिल्ली: सचिन तेंदुलकर मैदान पर अपने शानदार प्रदर्शन के लिए ही नहीं जाने जाते बल्कि अपनी विनम्रता  सौम्यता के लिए भी जाने जाते हैं वह शायद ही अपने पूरे करियर में किसी टकराव से जुड़े हों शायद ही कोई ऐसा मौका हो जब उन्होंने कोई तल्ख टिप्पणी की हो यही वजह है कि उन्हें ‘क्रिकेट का भगवान’ माना जाता है अनेक ऐसे क्रिकेटर रहे हैं जिन्होंने सचिन से प्रेरणा ली है पूर्व इंडियनक्रिकेटर श्रीसंत ने हाल ही में ”  सचिन से जुड़ा एक दिलचस्प वाकया सुनाया  

एस श्रीसंत ने रिएलटी टीवी शो ‘बिग बॉस’ में के बारे में एक दिल छू लेने वाली घटना का जिक्र कियाश्रीसंत फिलक्त बिग बॉस का भाग हैं वह 2007 में आईसीसीसी टी-20 टीम में थे  2011 के वर्ल्ड कप में भी वह भारतीय टीम में थे उनके करियर में उस समय उड़ान आई, जब 2007 के टी-20 वर्ल्ड कप में उन्होंने फाइनल मैच में पाकिस्तानी खिलाड़ी मिस्बाह उल हक का कैच पकड़ा

Loading...

2011 के हिंदुस्तान के वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम में भी श्रीसंत शामिल थे श्रीसंत ने बिग बॉस में उस साक्षात्कार का जिक्र किया, जिसमें सचिन तेंदुलकर ने उनकी वकालत की थी शो में श्रीसंत ने कहा, ‘वर्ल्ड कप (2011) जीतने के एक दो वर्ष बाद सचिन का एक साक्षात्कार चल रहा था इसमें सचिन ने मेरा नाम लिया था  बोला था कि वर्ल्ड कप जितना में श्रीसंत की अहम किरदार थी उस समय मैं खुशी से पागल हो गया था ‘

loading...

बता दें कि गोपनीय रूम में भेजे गए श्रीसंत अनूप जलोटा के साथ वापस घर में लौट आए हैं

आईपीएल 2013 में श्रीसंत स्पॉट फिक्सिंग में पकड़े गए थे  उन पर किसी पर तरह के क्रिकेट खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया था दिल्ली पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी भी की थी जुलाई 2015 में वह स्पॉट फिक्सिंग मामले में बरी हो गए थे, लेकिन बीसीसीआई ने उन पर लगा आजीवन प्रतिबंध नहीं हटाया

अक्टूबर 2017 में केरल न्यायालय ने श्रीसंत पर दोबारा आजीवन प्रतिबंध लगा दिया श्रीसंत फिल्हालइस मामले पर कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं शो में उन्होंने यह उम्मीद भी जताई कि उन पर से प्रतिबंध हट जाएगा  वह दोबारा क्रिकेट में लौट सकेंगे अनूप जलोटा के सांत्वना देने पर श्रीसंत फूट-फूट कर रो पड़े थे

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *