Wednesday , November 14 2018
Loading...

INDvsWI: क्रिकेट को एंजॉय करने के लिए करियर के कुछ ही वर्ष बचे हैं : विराट

गुवाहाटी: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली अपने करियर के बेहरतीन फॉर्म में चल रहे हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ पांच मैचों की वनडे सीरीज के पहले मैच में विराट ने कप्तानी पारी खेलते हुए अपने करियर का 36वां शतक लगाया  अपनी टीम को बड़ी जीत दिलाने में अहम किरदार निभाईमैच के बाद विराट ने शतक लगाने वाले अपने साथी रोहित शर्मा की जमकर तारीफ की  अपने बारे में यह भी बोला कि उनके पास क्रिकेट को एंजॉय करने के कुछ ही वर्ष बचे हैं 

विराट ने अपनी पारी में केवल 107 ही गेंदों पर 140 रनों की पारी खेली, जिसमें उन्होंने 21 चौक  3 छक्के लगाए विराट को उनकी इस पारी के लिए मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया वेस्टइंडीज के दिए 323 रनों के लक्ष्य का पीछा करने जब भारतीय टीम बल्लेबाजी करने उतरी थी, तब दूसरे ओवर में ही भारतीय टीम का पहला विकेट शिखर धवन के रूप में गिर गया ऐसे में विराट कोहली ने आकर न केवल इंडियन पारी को संभाला बल्कि तेजी से रन बनाते हुए मैच को वेस्टइंडीज से दूर भी करते गए

रनों की भूख कहां से आती है
मैच के बाद कॉमेंटेटर ने प्रेजेंटेशन के दौरान विराट से पूछा कि आपमें ये इतनी तीव्रता  रनों की भूख कहां से आती है? ऐसा लगता है कि आप वर्ल्डकप फाइनल खेल रहें हैं विराट ने इस पर कहा, “मेरे पास इस खेल को एंजॉय करने लिए कुछ ही वर्ष बचे हैं राष्ट्र के लिए खेलना एक बहुत बड़े गर्व सम्मान का विषय है आप किसी भी खेल को हलके में नहीं ले सकते ”

विराट ने कहा, “आपको खेल के प्रति ईमानदार रहना ही होगा  तब जब खेल आपको लौटाता है मैं ऐसा करने की प्रयास करता हूं ये मेरी मूल सोच है क्योंकि आब हिंदुस्तान के लिए खेल रहे हैं हर किसी को यह मौका नहीं मिलता है जब वेस्टइंडीज जैसी टीम बल्लेबाजी करती है तो उन्हें रोकना कठिन होता है मैं गेंदबाजों पर सख्तनहीं हो सकता, लेकिन हां हम बेहतर कर सकते थे  हमने अंतिम कुछ ओवरों में बेहतर गेंदाबाजी की भी ये ऐसा है जो हमें सीखना है ”

30 वर्ष की आयु नहीं है विराट की
उल्लेखनीय है कि विराट कोहली अभी 30 वर्ष के भी नहीं हुए हैं ऐसे में यह कहना कि उनके क्रिकेट के कुछ ही वर्ष बचे हैं उनके फैंस को दुखी कर सकता है कोहली ने जीत के बारे में कहा, “यह जीत हमारे लिए शानदार रही मैं समझता हूं कि वेस्टइंडीज ने भी बेहतरीन बल्लेबाज की  320 से ऊपर का लक्ष्य हमेशा कठिन होता है लेकिन हम जानते थे कि अगर एक अच्छी गठबंधन हुई तो हम मैच जीत जाएंगे ”

Loading...

एंकर का भूमिका निभाना पसंद है विराट को
कोहली ने कहा, “दूसरे छोर में रोहित हो तो बल्लेबाजी सरल हो जाती है ऐसा बहुत कम होता है कि रोहित क्रीज पर मौजूद दूसरे बल्लेबाज से धीमी बल्लेबाजी करे शीर्ष तीन बल्लेबाजों में से मुझे एंकर भूमिका निभाना पसंद है लेकिन आज मैं अच्छा महसूस कर रहा था  मैंने रोहित से बोला कि वह एंकर भूमिका निभाए मरे पवेलियन लौटने के बाद उन्होंने तेज बल्लेबाजी की  अंबाती रायडू ने एंकर भूमिका निभाया “

loading...
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *