Wednesday , November 14 2018
Loading...

जनधन योजना गवर्नमेंट का एक व ‘जुमला’ : पी चिदंबरम

नई दिल्लीकांग्रेस पार्टी ने गवर्नमेंट की पीएम जनधन योजना को एक  जुमला बताया है वरिष्ठ कांग्रेस पार्टी नेता  पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने गुरुवार को आरोप लगाया कि इन खातों का प्रयोगनोटबंदी के दौरान काले धन को सफेद करने के लिए किया गया इन खातों में उस समय 42,187 करोड़ रुपये जमा हुए 

चिदंबरम ने बोला कि जनधन खातों के जरिए सही तरीके से वित्तीय समावेश को आगे बढ़ाने के बजाय नरेंद्र मोदी गवर्नमेंट रिकॉर्ड तोड़ने  चर्चा में बने रहना चाहती है

Loading...

उन्होंने बोला कि जिस तरह से हिंदुस्तान की कहानी 26 मई, 2014 को नहीं प्रारम्भ हुई थी उसी तरीके से जनधन योजना के जरिए वित्तीय समावेशन भी प्रारम्भ नहीं हुआ है संयुक्त प्रगतिशील साझेदारीगवर्नमेंट (संप्रग) ने वित्तीय समावेश के विचार को आगे बढ़ाया था

loading...

चिदंबरम ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘अब यह सभी को पता है कि इन खातों का प्रयोग नोटबंदी के बाद काले धन को सफेद करने के लिए किया गया था 8 नवंबर, 2016 से 30 दिसंबर, 2016 के दौरान इन खातों में 42,187 करोड़ रुपये की वजनदार रकम जमा हुई

चिदंबरम ने बोला कि आरंभ में वित्त मंत्री ने 12 नवंबर, 2016 को कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी थी लेकिन वित्त सचिव ने इसमें लगने वाले समय का हवाला देते हुए जांच से मना किया था उन्होंने बोला कि यूनाइटेड बैंक आफ इंडिया में अकेले 11,80,000 जनधन खाते हैं, जिनमें कथित तौर पर एक-एक लाख रुपये से अधिक की ‘बचत’ है

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *