Wednesday , November 14 2018
Loading...

अखिलेश ने कहा कि PM बनने की महत्वाकांक्षा नहीं, उत्तर प्रदेश को बेहतर बनाने के लिए कार्य करना चाहूंगा

नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने गुरुवार को बोला कि पीएम बनने की उनकी कोई महत्वाकांक्षा नहीं है  इसके बजाय वह अपने राज्य यूपी को बेहतर बनाने के लिए कार्य करना चाहेंगे यूपी के पूर्व CM ने पत्रकार – लेखक प्रिया सहगल की एक पुस्तक के विमोचन प्रोग्राम में यह कहा, जिसमें भाजपा नेता राम माधव, नेशनल कॉन्फ्रेंस  के उमर अब्दुल्ला, कांग्रेस पार्टी के सचिन पायलट  रालोद के जयंत चौधरी शामिल हुए थे

परिचर्चा का रूख महागठबंधन की ओर मुड़ने पर प्रोग्राम के संचालक वीर सांघवी (पत्रकार) ने पूछा कि जब सभी विपक्षी नेताओं की पीएम बनने की महात्वाकांक्षा है, ऐसे में कोई साझेदारी कैसे कार्य करेगाइस पर, यादव ने जवाब दिया कि उनकी ऐसी कोई महत्वाकांक्षा नहीं है

Loading...

इसके बाद सांघवी ने पूछा ‘नहीं है ?’ यादव ने जवाब दिया, ‘नहीं है ’ जब संचालक ने पूछा, ‘कभी नहीं’, सपा नेता ने कहा,‘कभी नहीं ’ सपा प्रमुख ने बोला कि इसके बजाय वह अपने राज्य की स्थिति को बेहतर बनाने के लिए कार्य करना चाहेंगे उन्होंने यूपी के CM रहने के दौरान अपने द्वारा किए गए कार्यों का उदाहरण दिया

loading...

वर्ष 2012 से 2017 तक उप्र के CM रहे यादव ने गोमती नदी  आगरा एक्सप्रेसवे के लिए किए गए कार्यों का जिक्र किया उन्होंने बोला कि एक्सप्रेसवे पर सुखोई, मिराज  हर्क्यूलस विमानों को उतारा गया जो इस बात का सबूत है कि वहां अच्छे कार्य किए गए उन्होंने भाजपा नेता राव माधव की ओर शरारतपूर्ण मुस्कान के साथ देखते हुए कहा,‘अब, आप अपना राफेल (लड़ाकू विमान) भी उतार सकते हैं ’

कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने बोला कि किसी को भी अपना ज़िंदगी पीएम बनने की महत्वाकांक्षा के साथ प्रारम्भ नहीं करना चाहिए क्योंकि राजनीतिक करियर को आकार देने में कई चीजें किरदारनिभाती हैं  पॉलिटिक्स में कुछ भी कहीं से भी स्थायी नहीं है

प्रधानमंत्री बनने की महत्वाकांक्षा नहीं होने का यादव का बयान संभवत: बीएसपी प्रमुख मायावती की पीएम पद की महात्वाकांक्षा को शांत करने की प्रयास के तौर पर भी देखा जा रहा है दरअसल, विपक्षी पार्टियां अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपीका मुकाबला करने के लिए महागठबंधन बनाने की प्रयास कर रही हैं

गौरतलब है कि यादव ने पिछले वर्ष फरवरी में भी यह बोला था कि पीएम बनने में उनकी कोई रूचि नहीं है लेकिन उनका ताजा बयान अब भाजपा के विरूद्ध विभिन्न विपक्षी पार्टियों का साझेदारी बनाने की प्रयास तेज होने के मद्देनजर बहुत ज्यादा मायने रखता है

हालांकि, विपक्ष की एकजुटता में कुछ दरार भी नजर आ रही है महागठबंधन होने से पहले बीएसपी कुछ अन्य पार्टियां छत्तीसगढ़ एवं मध्य प्रदेश सहित कुछ अन्य राज्यों में अलग रास्ते पर जा रही हैमुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस पार्टी के साथ मतभेदों के चलते भी ऐसा हुआ है

इस बीच, गैर भाजपा दलों से संपर्क साधने की प्रयास के तहत आंध्र प्रदेश के CM एवं तेदेपा प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू ने गुरूवार को कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी सहित कई विपक्षी नेताओं से मुलाकात की उन्होंने कांग्रेस पार्टी के साथ अपनी पार्टी के गठजोड़ को राष्ट्र को बचाने के लिए एक लोकतांत्रिक जरूरत बताया है

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *