Sunday , May 26 2019
Loading...

नपुंसकता सहित इन 7 बीमारियों को करती है दूर

नई दिल्ली : कैटरपिलर फंगस यानी हिमालयी वियाग्रा हिमालयी एरिया में पायी जाने वाली बेहदी उपयोगी जड़ी-बूटी है इसका सेवन बॉडी को तमाम समस्याओं से राहत देता है लाइलाज बीमारियों तक में इसके सेवन से आराम मिलता है विशिष्ट प्रकार के पहाड़ी कीड़े पर उगने वाली फफूंद को हिमालयी वियाग्रा बोला जाता है इसके भाव की बात करें तो यह सोने से भी महंगी मिलती है एक किलोग्राम कैटरपिलर फंगस 60 लाख रुपये तक की मिलती है इसको खाने से नपुंसकता से लेकर कैंसर तक का उपचार संभव है

जलवायु बदलाव के कारण कठिन से मिल रही
हाल ही में आई एक रिपोर्ट में बताया गया कि जलवायु बदलाव के कारण इसका मिलना कठिन हो गया है इसकी महंगी मूल्य के कारण ही चाइना  नेपाल में फफूंद यानी ‘यार्चागुम्बा’ को लेकर हुए झगड़ों में कई लोग मारे जा चुके हैं इसका उत्पादन 3300  4000 मीटर हिमालय एरिया के बीच में नेपाल, भूटान, हिंदुस्तान  तिब्बत में होता है पतली  पीले रंग में मिलने वाली यह फफूंद बहुत ज्यादामहंगी बिकती है

लाइलाज बीमारियों के लिए रामबाण
हिमालयी वियाग्रा में एसओडी, फैटी एसिड, न्यूक्लीओसाइड प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन B1, B2, B6, B12, जिंक, कॉर्बन  कार्बोहाइड्रेड पाए जाते हैं इन सभी का एक ही पदार्थ में मिलने के कारण यह लाइलाज बीमारियों के इलाज में रामबाण साबित होती है आगे पढ़िए हिमालयी वियाग्रा खाने के 7 जबरदस्त फायदों के बारे में

नपुंसकता का इलाज
जैसा कि हिमालयी वियाग्रा के नाम से ही बहुत ज्यादा कुछ समझ में आ रहा है कई राष्ट्रों में इसका सेवन नपुंसकता के इलाज में किया जाता है ऐसा माना जाता है कि इसके सेवन से शारीरिक अशक्तता दूर होती है  बॉडी में आंतरिक ताकत आती है हालांकि वैज्ञानिक तौर पर इसके फायदे साबित नहीं हुए हैं

श्वसन प्रणाली संबंधी उपचार
कई अध्ययनों से साफ हो चुका है कि कैटरपिलर फंगस यानी हिमालयी वियाग्रा में एंटोबायोटिक गुण हैं इसके सेवन से फेफड़ों  श्वसन प्रणाली संबंधी समस्याओं का इलाज संभव है

पुराने दर्द में मिलेगा आराम
अगर आपके घर में कोई बॉडी के किसी भी हिस्से में पुराने से पुराने दर्द से पीड़ित है तो हिमालयी वियाग्रा का सेवन लाभ देगा क्योंकि यह एक पीड़ानाशक औषधि है, यह साइटिका  पीठ दर्द के पुराने से पुराने दर्द में आराम देती है

शारीरिक ताकत दें
कैटरपिलर फंगस यानी हिमालयी वियाग्रा को खाने से आपके बॉडी में स्फूर्ति बनी रहती है  शारीरिक क्षमता बढ़ती है अगर आपका बॉडी अक्सर थकान महसूस करता है तो हिमालयी वियाग्रा का सेवन लाभकारी रहेगा

लिवर संबंधी उपचार
अक्सर लोगों में लिवर संबंधी रोग पाए जाते हैं जिस आदमी को लिवर संबंधी कठिनाई होती है, वह अक्सर बीमार रहता है  कुछ भी अच्छे से खा पी नहीं पाता चाइना में हिमालयी वियाग्रा का सेवन हेपीटाइटस बी के इलाज  लिवर संबंधी समस्या के लिए किया जाता है

ल्यूकेमिया का इलाज
ल्यूकेमिया के इलाज में भी हिमालयी वियाग्रा बेहद अच्छा साबित होती है ल्यूकेमिया एक प्रकार का ब्लड कैंसर है जिसमें बॉडी में सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या असामान्य रूप से बढ़ती हैं  इनके आकार में भी बदलाव होता है ये जमाव स्वस्थ रक्त कोशिकाओं के विकास में बाधक होती हैं

कुष्ठ रोग का उपचार
हिमालयी वियाग्रा का नियमित सेवन क्षय रोग के इलाज में सहायक रहता है इसके अतिरिक्त इसके सेवन से कुष्ठ रोग का इलाज भी संभव है

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *