Thursday , May 23 2019
Loading...

बेकार दौर के बाद भी कड़ी चुनौती देगी ऑस्ट्रेलिया : ईशांत शर्मा

सिडनी: जीतने के सबसे सुनहरे मौके को भुनाने की तैयारी में जुटी ने चेताया है उन्होंने बोला कि ऑस्ट्रेलिया बेकार दौर से जूझने के बावजूद कड़ी चुनौती पेश करने में सक्षम है में पहले टेस्ट के साथ प्रारम्भ होगी इंडियन टीम 29 दिसंबर से सिडनी क्रिकेट मैदान पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इलेवन के विरूद्ध चार दिवसीय एक्सरसाइज मैच खेलेगी 

ईशांत शर्मा ने कहा, ”हम इन चीजों के बारे में नहीं सोचते सब कुछ मैच के दिन निर्भर करता हैक्रिकेट में जो भी राष्ट्र के लिये खेल रहा है, वह अच्छा ही खेलता है नतीजा आने तक हम किसी को हलके में नहीं ले सकते ” उन्होंने कहा, ”हमारा लक्ष्य सीरीज जीतना है  हम सभी उस पर फोकस कर रहे हैं हम पर्सनल प्रदर्शन के बारे में नहीं सोच रहे हमारा लक्ष्य ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीतना है , बस एक ही लक्ष्य है ”

पिछली बार हिंदुस्तान को यहां 4-0 से हार झेलनी पड़ी थी मौजूदा कप्तान विराट कोहली ने हालांकि बहुत ज्यादा रन बनाए थे ईशांत ने कहा, ”अभ्यास मैच अहम है क्योंकि इससे लय बनेगी आपको दशा के बारे में पता चलेगा क्योंकि हम लंबे समय बाद यहां खेल रहे हैं ” इंडियन तेज आक्रमण पर बहुत ज्यादा जिम्मेदारी होगी जिसने दक्षिण अफ्रीका  इंग्लैंड के विरूद्ध अच्छा प्रदर्शन किया है

विराट कोहली  रवि शास्त्री ने बार बार मौजूदा तेज आक्रमण को इंडियन टेस्ट इतिहास का सर्वश्रेष्ठ बताया है शर्मा ने बोला कि इससे उन पर दबाव नहीं बना बल्कि बेहतर प्रदर्शन करने की प्रेरणा मिली है उन्होंने कहा, ”दबाव तो है लेकिन यह बढ़िया मौका भी है तेज आक्रमण में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा हैयदि आप अच्छा नहीं खेल रहे तो बाहर बैठना पड़ सकता है ”

ईशांत ने कहा, ”हमारे पास हर दशा में अच्छे प्रदर्शन का मौका है हमने दक्षिण अफ्रीका  इंग्लैंड में अच्छा प्रदर्शन किया हम दबाव के बारे में नहीं सोच रहे हम हमेशा अच्छे प्रदर्शन के बारे में सोचते है

ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतना है लक्ष्य
ने बोला कि टीम का लक्ष्य ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतना है ईशांत ने बोला कि कोई भी खिलाड़ी पर्सनल रूप से बेहतर प्रदर्शन देने के बजाए एक टीम के रूप में टेस्ट सीरीज जीतने पर ध्यान दे रहे हैंउन्होंने कहा, “हमारे लिए सबसे बड़ी वस्तु है इस सीरीज को जीतना  हर खिलाड़ी इसी पर ध्यान दे रहा है हमारा केवल एक ही लक्ष्य है ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीतना ”

ईशांत का मानना है कि खिलाड़ियों पर दबाव रहता है उन्होंने कहा, “अगर आप अपने राष्ट्र का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं, तो दबाव रहेगा मुझे लगता है कि मेरे लिए यह एक अच्छा मौका है, क्योंकि टीम में मोहम्मद शमी, उमेश यादव, जसप्रीत बुमराह  भुवनेश्वर कुमार जैसे खिलाड़ियों के होने से आपके लिए टीम में प्रतिस्पर्धा अधिक हो जाती है ऐसे में अगर आप अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाएंगे, तो आपको बैंच पर बैठकर मैच देखना होगा “

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *