Sunday , May 26 2019
Loading...

जेल में महिला को देख फिसली पुलिसवालों की नियत, सुनकर सभी के होश उड़ गए

इन दिनों मुजफ्फरपुर से लगातार क्राइम की खबरें आ रहीं हैं ऐसे मे हाल ही मे जो समाचार सामने आई है वह बिहार के सीतामढ़ी मंडल कारा की है जहाँ एक महिला बंदी के साथ मुजफ्फरपुर एसकेएमसीएच में सामूहिक बलात्कार किया गया है जी हाँ, इस मामले में शैलेश कुमार  छोटेलाल कुमार को आरोपित करार दिया गया है बताया जा रहा है कि उस दौरान वह दोनों सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी थे वहीं सीतामढ़ी मंडल कारा के अधीक्षक राजेश कुमार राय ने डुमरा थाने में शिकायत के लिए प्रतिवेदन भेजा है

इस मामले मे यह बताया गया है कि सीतामढ़ी मंडल कारा में अपहरण के मामले में महिला एक वर्ष से बंद थी  बार-बार बीमार होने के कारण उसे बीते 9 नवंबर को सीतामढ़ी सदर अस्पताल में उपचार के लिए लेकर गये थे जहाँ उसकी हालत मे सुधार नहीं होने के बाद डॉक्टरों की तीन सदस्यीय टीम का बोर्ड गठित कर बेहतर उपचार के लिए एसकेएमसीएच भेजने की अनुशंसा की इसके बाद सीतामढ़ी एसपी ने आदेश दिया  उनके आदेश पर दो महिला सिपाही और चार अन्य पुलिसवालों की प्रतिनियुक्ति में 11 नवंबर को महिला बंदी को एसकेएमसीएच में भर्ती करवा दिया गया वहीं इसके बाद उपचार हुआ  उस उपचार मे हुए सुधार के बाद फिर से उसे 22 नवंबर को सीतामढ़ी मंडल कारा में लेकर गए इस दौरान सीतामढ़ी मंडल कारा पर तैनात अधिकारी को पीड़ित महिला बंदी ने अपने साथ हुई घटना के बारे में सब कुछ बता दिया

वहीं इस मामले मे पीड़िता ने बयान दिया कि बीते 14 नवंबर की रात करीब ढाई बजे एसकेएमसीएच में भर्ती के दौरान महिला सिपाही अर्चना कुमारी के साथ वह शौचालय गई  वहां पर शैलेश कुमार छोटेलाल कुमार द्वारा उसे पहले मादक पदार्थ सुंघाया गया  फिर शौचालय में ही उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया  फिर उसे वहीं छोड़ दिया गया

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *