Saturday , March 23 2019
Loading...

जेटली ने कहा, CVC की सिफारिशों पर छुट्टी पर भेजे गए थे सीबीआई के वरिष्ठ अधिकारी

नई दिल्ली: ने मंगलवार को बोला कि CBI के दो वरिष्ठ अधिकारियों को छुट्टी पर भेजने का गवर्नमेंटका फैसला केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) की अनुशंसा पर लिया गया था उच्चतम कोर्ट द्वारा CBI निदेशक आलोक वर्मा को पद पर बहाल करने का निर्णय सुनाए जाने के बाद संसदीय परिसर में संवाददाताओं से जेटली ने बोला कि गवर्नमेंट शीर्ष न्यायालय के आदेशों का अनुपालन करेगी

वर्मा एवं CBI के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना को छुट्टी पर भेजे जाने के फैसला का संदर्भ देते हुए उन्होंने बोला कि गवर्नमेंट ने यह निर्णय CBI की संप्रभुता को बचाए रखने के लिए किया गवर्नमेंट ने CBI के दो वरिष्ठ अधिकारियों को छुट्टी पर भेजे जाने की कार्रवाई सीवीसी की अनुशंसा पर की थी

उन्होंने बोला कि कोर्ट ने एक सप्ताह के भीतर निर्णय लेने के लिए मुद्दे को समिति के पास भेज दिया है जेटली ने बोला कि CBI की निष्पक्ष एवं भेदभाव रहित कार्यशैली के व्यापक हित को देखते हुए कोर्ट ने स्पष्ट तौर पर CBI निदेशक को मिली सुरक्षा को मजबूत किया है साथ ही साथ कोर्ट ने जवाबदेही की व्यवस्था का रास्ता भी निकाला है कोर्ट के निर्देशों का निश्चित तौर पर अनुपालन होगा

वर्मा के अधिकार वापस ले लेने के केंद्र को निर्णय को दरकिनार करते हुए उच्चतम कोर्ट ने वर्मा की बहाली कर दी लेकिन उनपर लगे करप्शन के आरोपों की सीवीसी जांच समाप्त होने तक उन्हें कोई भी बड़ा नीतिगत निर्णय लेने से रोक दिया शीर्ष न्यायालय ने बोला कि वर्मा के विरूद्ध आगे कोई भी निर्णय उच्चाधिकार प्राप्त समिति लेगी जो CBI निदेशक का चयन एवं नियुक्ति करती है बताते चलेंकि वर्मा को केंद्र गवर्नमेंट के 23 अक्टूबर के निर्णय के बाद छुट्टी पर भेज दिया गया था  वह 31 जनवरी को सेवानिवृत्त होने वाले हैं

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *