Tuesday , April 23 2019
Loading...

आखिर ऐसा क्या हुआ की मायावती को लगा बड़ा झटका

नई दिल्‍ली: सर्वोच्च न्यायलाय ने बसपा (बसपा) सुप्रीमो मायावती को बड़ा झटका देते हुए बोला है कि स्‍मारक, अपनी मूर्तियां  हाथी की मूर्तियां बनाने पर जो जनता का पैसा व्यय हुआ है, उसको जनता को वापस करें. इस मामले में शीर्ष न्यायालय का कहना है कि “प्रथम दृष्टया बीएसपी अध्यक्षा मायावती को उनकी प्रतिमाओं  हाथियों पर व्यय किए गए पूरी सार्वजनिक धन राशि का भुगतान करना है”.

उल्लेखनीय है कि सुप्रीम न्यायालय ने एक पुरानी याचिका पर सुनवाई करते हुए ये बात कही लेकिन अंतिम निर्णय आना बाकी है. मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुआई में सुप्रीम न्यायालय की पीठ ने बोला है कि, “यह हमारा विचार है कि मायावती, इन हाथियों के लिए खर्च की गई सरकारी राशि का भुगतान करें.” इसके साथ ही न्यायालय ने बोला है कि, ‘‘हमारे विचार में मायावती को अपनी  चुनाव चिह्न की मूर्तियां बनवाने पर खर्च किया गया पूरा सार्वजनिक धन सरकारी खजाने में वापस जमा कराना होगा.’’

अदालत एक एडवोकेट की तरफ से दायर याचिका पर सुनवाई कर रहा थी, जिसमें बोला गया था कि जनता के धन का इस्तेमाल अपनी मूर्तियां बनवाने  राजनीतिक दल का प्रचार करने के लिए नहीं किया जाना चाहिए. हालांकि बेंच ने यह भी स्पष्ट किया है कि, यह अभी संभावित विचार है क्योंकि मामले की सुनवाई में कुछ समय लगेगा. अब सर्वोच्च न्यायालय 2 अप्रैल को हाथी की मूर्तियों पर खर्च की गई धनराशि की जनहित याचिका पर अंतिम सुनवाई करेगी.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *