Wednesday , March 20 2019
Loading...
Breaking News

Hockey: गुरबक्श सिंह ने कहा कि पाक से अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट में खेलना चाहिए व उसे हराना चाहिए

कोलकाता: पुलवामा में आतंकवादी हमले (Pulwama Attack) के बाद एक बाद पर लगातार बहस हो रही है कि हिंदुस्तान को पाक से संबंध रखने चाहिए या नहीं ज्यादातर देशवासी मानते हैं कि पाकसे संबंध नहीं रखने चाहिए राष्ट्र का एक बड़ा वर्ग मांग कर रहा है कि हिंदुस्तान को पाक से खेल संबंध भी तोड़ देने चाहिए वहीं, हॉकी टीम के पूर्व कप्तान गुरबक्श सिंह का मानना है कि हिंदुस्तानको अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंटों में पाक के साथ खेलना चाहिए  उसे हराना चाहिए  

इस वर्ष जून में भुवनेश्वर में हॉकी सीरीज फाइनल्स होने हैं यह टोक्यो ओलंपिक-2020 के लिए एक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट है गुरबक्श ने कहा, ‘यहां कुछ अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबद्धताएं हैं, जिसे हमें पूरा करना चाहिए हम उनसे (पाकिस्तान) द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेलेंगे ’ उन्होंने कहा, ‘आप अपनी पीढ़ी के खिलाड़ियों का करियर नष्ट कर रहे हैं. यह बहुत शर्म की बात है ’

भारत ने पुलवामा हमले के बाद नयी दिल्ली में आयोजित शूटिंग वर्ल्ड कप (ISSF World Cup) में पाक के दो निशानेबाजों को वीजा नहीं दिया था पूर्व इंडियन कप्तान गुरबख्श सिंह ने कहा, ‘उन्हें आने दो यह हमारी प्रतिबद्धता है हम दोस्ती नहीं बढ़ा रहे हैं हम द्विपक्षीय सीरीज में नहीं खेल रहे हैं लेकिन हम उन्हें अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंटों में खेलने देंगे ’

गुरबक्श सिंह 1964 ओलंपिक  1966 में एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम का भाग रह चुके हैं उन्होंने कहा, ‘1965 में युद्ध हुआ था जालंधर में हमारा शिविर था 1964 में हमने उन्हें हराया  1965 के युद्ध के बाद, 1966 में एशियन गेम्स में भी हमने उन्हें (पाकिस्तान को) मात दी थी

भारत-पाक संबंधों को लेकर इस समय सबसे ज्यादा चर्चा क्रिकेट वर्ल्ड कप को लेकर हो रही है पूर्व कप्तान सौरव गांगुली  हरभजन सिंह समेत कई क्रिकेटर यह मांग कर चुके हैं कि हिंदुस्तान को विश्व कप में पाक का बहिष्कार करना चाहिए दूसरी ओर, सचिन तेंदुलकर  सुनील गावस्कर का बयान गुरबख्श सिंह से मिलता-जुलता आया है सचिन तेंदुलकर  गावस्कर का कहना है कि हिंदुस्तान को विश्व कप में पाक से खेलना चाहिए  हराना चाहिए

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *