Thursday , May 23 2019
Loading...

सैम पित्रोदा को 1984 दंगों के बयान पर शर्मिंदा होना चाहिए : राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को दोहराया कि 1984 में हुए सिख विरोधी दंगों के बयान पर सैम पित्रोदा को जरूर माफी मांगनी चाहिए. खबर एजेंसी एएनआई के मुताबिक पंजाब के फतेहगढ़ में सोमवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, “सैम पित्रोदा ने 1984 दंगों के बारे में जो बोला वो बिल्कुल गलत है  उन्हें इस बात के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए. मैंने उन्हें फोन पर यह बताया. मैंने उनसे बोला कि उन्होंने जो कुछ भी बोला वो पूरी तरह से गलत था. उन्हें शर्मिंदा होना चाहिए  सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी चाहिए.

1984 में दिल्ली में हुए सिख विरोधी दंगों से जुड़े एक सवाल के जवाब में पित्रोदा ने बीते 9 मई को बोला था कि अब क्या है 84 का? आपने (नरेंद्र मोदी) पांच वर्ष में क्या किया, उसकी बात करिए. 84 में जो हुआ, वो हुआ. जिसके बाद बीजेपी ने कांग्रेस पार्टी की आलोचना की थी.

सैम पित्रोदा को देनी पड़ी थी सफाई
कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी  भारतीय ओवरसीज कांग्रेस पार्टी के प्रमुख सैम पित्रोदा ने 1984 के सिख विरोधी दंगों से जुड़े अपने एक कथित बयान को लेकर बीजेपी के हमले पर पलटवार करते हुए शुक्रवार (11 मई) को बोला था कि सत्तारूढ़ पार्टी अपनी नाकामियां छिपाने के लिए उनके शब्दों को तोड़-मरोड़कर पेश कर रही है.

उन्होंने ट्वीट कर बोला था, ”भाजपा एक इंटरव्यू में कहे मेरे तीन शब्दों को तोड़-मरोड़कर पेश कर रही है ताकि वह तथ्यों को अपने हिसाब से गढ़ सके, हमें बांट सके  अपनी नाकामियां छिपा सके.यह दुखद है कि उनके पास देने के लिए कुछ भी सकारात्मक नहीं है.

पित्रोदा ने बोला था, ”1984 में कठिन समय में अपने सिख भाइयों-बहनों के दर्द का मुझे अहसास था  उन अत्याचारों के बारे में आज भी महसूस करता हूं. परंतु ये चीजें अतीत की हैं  इस चुनाव में प्रासंगिक नहीं हैं. यह चुनाव इस पर लड़ा जा रहा है कि नरेन्द्र मोदी सरकार ने पांच सालों में क्या किया है.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *