Thursday , May 23 2019
Loading...

एम वेंकैया नायडू ने कहा, नफरत एवं हिंसा के विचार के कारण संसार में जारी है संघर्ष

नई दिल्ली: रविवार को बोला कि घृणा की विचारधारा के समर्थकों को रचनात्मक कार्यों में लगाने की जरूरत है ताकि मूर्खतापूर्ण की जा रही हत्याओं  तबाही को रोका जा सके

ताम चुक पैगोडा में वेसाक के 16 वें संयुक्त देश दिवस के उद्घाटन समारोह में नायडू ने मुख्य सम्बोधन में बोला देशों के बीच प्रयत्न की उत्पत्ति की जड़ें एक आदमी के मन में उत्पन्न नफरत एवं हिंसा के विचार में हैं वियतनाम के पीएम गुयेन जुआन फुक, म्यामां के राष्ट्रपति विन मिंट  नेपाल के पीएम के पी शर्मा ओली भी इस समारोह में उपस्थित थे

आतंकवाद का खतरा विनाशकारी
नायडू ने कहा, ‘‘ दुनिया में आतंकवाद को लेकर बढ़ रहा खतरा विध्वंसक भावना की अभिव्यक्ति हैघृणा की विचारधारा के समर्थकों को रचनात्मक कार्यों में लगाने की जरूरत है ताकि मूर्खतापूर्ण की जा रही हत्याओं  तबाही को रोका जा सके ’’

भगवान बुद्ध के संदेश को दोहराया
नायडू ने बोला कि भगवान बुद्ध का शांति एवं करुणा का संदेश सारे दुनिया में सम्प्रदाय  विचारधारा से प्रेरित हिंसा को दूर करने के लिए एक सोच  प्रभावी उत्तर प्रदान करता है नायडू चार दिवसीय यात्रा पर वियतनाम पहुंचे हैं आपको बता दें कि, बौद्ध समुदाय के लोग यहां बुद्ध जयंती को वेसाक के रूप में मनाते हैं

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *