Tuesday , April 23 2019
Loading...

धर्म कर्म

इस ख़ास वजह से मनाई जाती है नवरात्रि

वैसे तो संसार के सभी लोग इस बात से वाकिफ हैं कि नवरात्रि क्यों मनाते हैं लेकिन फिर भी आज हम आपको इसके पीछे की वह कथा बताने जा रहे हैं जिसे सुनने के बाद मोक्ष प्राप्त होता है। जी हाँ, आज हम आपको बताएंगे कि आखिर नवरात्रि क्यों मनाते हैं। इससे जुड़ी ...

Read More »

आज होगी माँ शैलपुत्री की पूजा, जानिए

आप सभी जानते ही हैं कि चैत्र नवरात्रि इस बार 6 अप्रैल से यानी आज से शुरु हो गई है ऐसे में हम सभी जानते हैं कि इस दौरान मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है व दुर्गा के पहले स्वरूप को ‘शैलपुत्री’ के नाम से जाना जाता हैं। ऐसे ...

Read More »

ईश्वर राम के भाई लक्ष्मण की मौत हुई थी इस तरह

दुनियाभर के बहुत से लोग हैं जो इस बात को नहीं जानते हैं कि राम ईश्वर के भाई लक्ष्मण की मौत कैसे हुई थी। जी हाँ, ऐसे में आज हम आपको इससे जुडी एक कथा बताने जा रहे हैं जिसे सुनने के बाद आपको पता चल जाएगा कि कैसे हुई थी ईश्वर राम के भाई ...

Read More »

माँ स्कन्दमाता का जन्म कैसे हुआ था यहाँ जानिए

आप सभी को बता दें कि आज नवरात्री का पांचवा दिन है। ऐसे में आज के दिन माँ स्कंदमाता की पूजा होती है जो सभी बहुत ही चाव के साथ करते हैं। तो आइए जानते हैं आज माँ स्कंदमाता की वह कथा जो पुराणों में वर्णित है। आइए बताते हैं आपको। स्कन्द माता ...

Read More »

ईश्वर कृष्णा का रंग नीला हुआ इस वजह से

आप सभी को बता दें कि ईश्वर कृष्ण की अधिकांश तस्वीरों में उनका रंग नीला दिखाया जाता है वहीं कृष्ण सांवले थे तो उनकी तस्वीरों में नीला रंग दिखाने का क्या औचित्य है, अगर आपके दिल में भी कई बार ये सवाल आया है तो आज हम आपको इसके पीछे के कारणों के बारे ...

Read More »

राशिफल 18 मार्च: इन राशिवाले आज प्रारम्भ कर सकते हैं नया काम

नई दिल्ली: नक्षत्र अपनी चाल हर समय बदलते हैं। इन नक्षत्रों का हमारे ज़िंदगी पर भी बहुत असरपड़ता है। ज्योतिष विज्ञान के अनुसार कौन सा ग्रह व नक्षत्र आपकी कुंडली के कौन से घर में जा रहा है, इसके मुताबिक आपका ज़िंदगी प्रभावित होता है। ग्रहों की रोज बदलती चाल के कारण ही हमारा रोज का दिन भी अलग होता ...

Read More »

महाकाल की सवारी हुई थी जानिए कहाँ से प्रारम्भ

आप सभी जानते ही होंगे कि उज्जैन एक तीर्थ नगरी है व यहां पर्व, तीज, त्योहार, व्रत सभी आयोजन बड़ी आस्था, परंपरा व विधिपूर्वक मनाए जाते हैं। ऐसे में श्रावण मास में तीज-त्योहार खूब मनाए जाते हैं व हर तीज त्यौहार का अपना एक अलग महत्व होता है। ऐसे में श्रावण सोमवार सवारी, नागपंचमी, रक्षाबंधन के अवसरों पर ...

Read More »

आखिर क्यों भोलेनाथ के जयकारे में कहा जाता है ये…

हर वर्ष आने वाली महाशिवरात्रि इस बार 4 मार्च को है। ऐसे में शिव पूजा चाहें श्रावण मास में करें, शिवरात्रि पर करें या नित्य, ईश्वर शिव को प्रसन्न करने के लिए पूजा के अंत में गाल बजाकर ‘बम बम भोले’ या ‘बोल बम बम’ का उच्चारण किया जाता है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा ...

Read More »

महाशिवरात्रि व क्यों रखते हैं इस दिन व्रत, जानें

आप सभी जानते ही हैं कि हर वर्ष भोलेनाथ का त्यौहार यानी महाशिवरात्रि मनाया जाता है व यह त्यौहार सभी को भाता है। ऐसे में इस वर्ष महाशिवरारात्रि 4 मार्च को है जो कई लोगों का फेवरेट त्यौहार है। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं इस व्रत के पीछे की एक कथा जिससे आपको यह ...

Read More »

माँ जानकी जयंती: श्रीराम के चरण चिह्नों पर आखिर क्यों नहीं रखती थीं ये…जानें

आप सभी जानते ही होंगे कि फाल्गुन माह में कृष्ण पक्ष अष्टमी तिथि को माता सीता के पूजन का दिन है व कहते हैं कि इस दिन माता सीता धरती पर अवतरित हुईं थी। इसी के साथ ऐसा भी कहते हैं कि इस दिन को सीता अष्टमी या जानकी जयंती नाम से जाना ...

Read More »