Tuesday , April 24 2018
Loading...

लेख विचार

तीसरा मोर्चा पर गुस्सा क्यों

प्रभाकर चैबे  भाजपा के खिलाफ तीसरा मोर्चा की विपक्ष की तैयारी भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को पसंद नहीं आ रही- नाराज से हैं| कर्नाटक की एक सभा में तीसरा मोर्चा के गठन के प्रयास पर व्यंग्य बाण छोड़ते हुए अमित शाह जी ने कहा कि जब नदी में बाढ़ आती ...

Read More »

बेटियों, वाकई मैं हिंदुस्तान हूं, मैं शर्मसार हूं!

जय प्रकाश पाण्डेय पिछले दो दिनों से जो घटनाएं चर्चा में हैं वह किसी भी सभ्य समाज में शोभा नहीं देती हैं| ये शर्मनाक हैं| एक समाज के रूप में, एक देश के रूप में हम सब इसके लिए शर्मसार हैं| कठुआ और बलात्कारकांड पर उठे बवाल के बाद प्रधानमंत्री ...

Read More »

सत्तर सालों में देश की हालत

कुमार प्रशांत लोकगाथा में वर्णित समुद्र-मंथन से वह कैसा विष निकला था कि जिसके प्रभाव से सारी सृष्टि का विनाश हो जाता, पता नहींय और यह भी पता नहीं कि वह देवाधिदेव शंकर कैसे रहे होंगे कि जिन्होंने आगे आकर, सृष्टि का विनाश रोकने के लिए उस विष का पान ...

Read More »

महिलाओं के प्रति निष्ठुर क्यों हैं

आशुतोष चतुर्वेदी देश में दुष्कर्म के दो मामले सुर्खियों में हैं| दुर्भाग्य यह है कि दोनों मामलों में भारी राजनीति हो रही है और महिलाओं के सम्मान का मुद्दा पीछे छूट गया है| उत्तर प्रदेश में तो भाजपा के एक विधायक पर ही दुष्कर्म का आरोप है| हाइकोर्ट और सीबीआई ...

Read More »

आर्थिक-सामाजिक विकास में डॉ. अंबेडकर का योगदान

डॉ. हनुमंत यादव Loading... loading... डॉ|बीआर अंबेडकर का पहला आर्थिक शोधपत्र  भारत में लघु कृषि जोतों की समस्या और उसका निदान शीर्षक से 100 साल पूर्व 1918 में जर्नल ऑफ  इंडियन इकानॉमिक सोसाइटी में प्रकाशित हुआ था| उस आलेख में डॉ| अंबेडकर ने कृषि जोतों के अपखंडन से जोतों के ...

Read More »

एक अलग किस्म का केरल माडल

सुभाष गाताडे केरल के जाने-माने फुटबाल खिलाड़ी विनीत की जिन्दगी का एक छोटा सा कदम पिछले दिनों राष्ट्रीय सुर्खियां बना था|अपने बेटे के जन्म प्रमाणपत्र के लिए दी गई उनकी दरखास्त में उन्होंने जाति और धर्म का कॉलम खाली छोड़ा था|  पत्रकारों द्वारा पूछे जाने पर उन्होंने टका सा जवाब ...

Read More »

जिम्मेदार बने ‘ओपेक’

डॉ अश्विनी महाजन Loading... loading... अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा मंच की 16वीं बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया के तेल उत्पादक एवं निर्यातक देशों से यह गुहार लगायी है कि वे तेल की कीमतों को निर्धारित करने में जिम्मेदारी बरतें| आज कच्चे तेल की कीमतें 73 डाॅलर प्रति बैरल पार कर ...

Read More »

फांसी से नहीं रुकेगा अपराध

आकार पटेल कठुआ और उन्नाव में जो कुछ भी हुआ, वैसी घटनाओं पर हमारे समाज को कैसी प्रतिक्रिया देनी चाहिए! विश्वभर में भारत इस बात को लेकर बदनाम है कि यहां यौन हिंसा के कारण महिलाएं और बच्चे असुरक्षित हैं| और, अगर यह सच नहीं है, तब भी ऐसी सोच ...

Read More »

सीरिया को अब तो बख्श दो बड़ी शक्तियों!

कृष्ण प्रताप सिंह सात सालों से गृहयुद्ध झेल रहे सीरिया को लेकर रूस व अमेरिका के बीच अरसे से जारी तनाव गत शनिवार को तब चरम पर पहुंच गया, जब अमेरिका ने ब्रिटेन व फ्रांस के साथ मिलकर सीरिया के कई सैन्य ठिकानों पर कोई सैकड़े भर मिसाइलें बरसा दीं| ...

Read More »

यह मोदी की भाजपा है!

प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी ही अब भारतीय जनता पार्टी में सब कुछ हैं| उन्होंने अपने एक करीबी सिपहसालार अमित मोदी को पार्टी अध्यक्ष के पद पर बिठा रखा है|  लेकिन लोगों की याददाश्त कमजोर है| पार्टी के संस्थापक अटल बिहहारी वाजपेयी थे जो बाद में प्रधानमंत्री बने और कई पार्टियों के ...

Read More »