Wednesday , August 22 2018
Loading...

लेख विचार

तनवीर जाफरी

राफेलः कुछ तो है जिसकी पर्दादारी है भारत द्वारा फ्रांस से खरीदे जाने वाले लड़ाकू विमान राफेल को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर दबाव लगातार बढ़ता जा रहा है| इस मामले की गूंज संसद से लेकर सड़कों तक सुनाई देने लगी है| ऐसा समझा जा रहा है कि 2019 का ...

Read More »

सवर्णों को डारने वाला संविधान संशोधन

प्रेम शर्मा पहले कोटे पर कोटा यानि आरक्षण के साथ पदोन्नति में आरक्षण यानि जेष्ठता और श्रेष्ठता का आपमान कर चुकी मोदी सरकार ने एक बार फिर वोट बैंक की राजनीति और बहुजन समाज पार्टी से चिपके वोट बैक को हाथियाने के लिए अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (एससी|एसटी) कानून ...

Read More »

हर चुनाव 2019 का आगाज क्यों हो जाता है?

पुष्परंजन लोकसभा में अविश्वास वोटिंग से लेकर राज्यसभा तक जो कुछ हुआ, उसमें एक बात तो हुई कि बीजेपी अपने गठबंधन क्षत्रपों के आगे गिड़गिड़ाती हुई दिखने लगी है| चार साल तक सबसे बड़े दल का अहंकार ढोती बीजेपी, फिर ऊंट आया पहाड़ के नीचे वाली परिस्थिति में है| इसके ...

Read More »

क्या असम के प्रवासी देश की सुरक्षा के लिए खतरा है?

राम पुनियानी राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) का पहला मसौदा जारी होते ही पूरे देश में बवाल उठ खड़ा हुआ है| इस सूची से असम में रह रहे लगभग 40 लाख लोगों के नाम गायब हैं| शासक दल भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह  का कहना है कि जिन लोगों के नाम ...

Read More »

आतंकवाद के खिलाफ ब्रिक्स

अरविंद जयतिलक उभरती विकासशील अर्थव्यवस्थाओं के सशक्त समूह ब्रिक्स का दसवां शिखर सम्मेलन दक्षिण अफ्रीका के जोहान्सबर्ग शहर में संपन्न हो गया| चूंकि इस शिखर सम्मेलन का विषय ब्रिक्स इन अफ्रीका-कोलब्रेशन फॉर इनक्लुसिव ग्रोथ एंड शेयर्ड प्रॉसपिरिटी इन द फोर्थ इंडस्ट्रियल रिवोलेशन था, लिहाजा इस संदर्भ को ध्यान में रखकर ...

Read More »

करुणानिधि का सामाजिक न्याय

योगेंद्र यादव (अध्यक्ष, स्वराज इंडिया) देश के अधिकांश इलाकों में एम करुणानिधि का गुजरना कोई बड़ी खबर नहीं है| उनके निधन और अंत्येष्टि की खबर जरूर देशभर के अखबारों के मुखपृष्ठ पर छपी है| सबने बताया है कि वे पांच बार मुख्यमंत्री रहे, तेरह बार विधायक| लेकिन पता नहीं तमिलनाडु ...

Read More »

दलित व पिछड़ों के वोट की पिच पर होगा 2019 का फैसला

शेष नारायण सिंह राजनीतिक विश्लेषण करने वाली बिरादरी को मालूम है कि आगामी चुनावों में खेल की पिच कहीं और है, वह चुनावों में पिछड़े और दलित वर्गों के वोटों को लक्ष्य करके खेली जायेगी| क्योंकि अगर फैसला गंगा नदी के इलाके में होना है तो वहां तो दलित और ...

Read More »

एनआरसी मसौदे पर उठ रहे सवाल

दिनकर कुमार असम में 30 जुलाई को राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) का दूसरा और अंतिम मसौदा प्रकाशित हुआ है, जिसमें 40 लाख लोगों के नाम शामिल नहीं किए गए हैं| अलग-अलग नजरिए से यह संख्या कम या अधिक मानी जा सकती है| अगर ये तमाम लोग विदेशी घुसपैठिए करार दिये ...

Read More »

राज्यसभा में शक्ति परीक्षण

राज्यसभा के उपसभापति चुनाव में सत्तारूढ़ एनडीए के उम्मीदवार जदयू सांसद हरिवंश नारायण सिंह ने विपक्ष के उम्मीदवार कांग्रेस सांसद बी|के|हरिप्रसाद को  हरा दिया| हरिवंश को 125 वोट मिले, जबकि बी|के|हरिप्रसाद को 105 वोट हासिल हुए| अब तक इस पद पर कांग्रेस के पी|जे|कुरियन काबिज थे और 30 जून को ...

Read More »

यूपी की कानून व्यवस्था पर मंथन की जरूरत

प्रेम शर्मा विपक्षी दलों की सरकारों की कानून व्यवस्था को लेकर घेरने वाली भाजपा को यूपी की कानून व्यवस्था पर अब मंथन की जरूरत है| उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार कानून व्यवस्था के मुद्दे पर घिरते जा रहे हैं| सूबे में एक के बाद एक हो रही हत्याओं ...

Read More »